तवांग पर संसद में हंगामा, कांग्रेस ने सरकार पर लगाए आरोप….

188

सिटी न्यूज़ …. अरुणाचल प्रदेश में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर 9 दिसंबर (शुक्रवार) को भारत और चीन के सैनिकों के बीच आमने-सामने का संघर्ष का मामला गर्माता जा रहा है। चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के जवानों ने तवांग सेक्टर में LAC पार करने की कोशिश की। इसका भारतीय सैनिकों ने पूरी ताकत से जवाब दिया। इस दौरान हुए संघर्ष में दोनों पक्षों के करीब 30 सैनिक घायल हुए। घायलों में ज्यादा संख्या चीनी सैनिकों की बताई जा रही है। गंभीर रूप से जख्मी छह भारतीय सैनिकों का गुवाहाटी के 151 बेस अस्पताल में इलाज चल रहा है। एलएसी पर हुई इस झड़प के तुरंत बाद भारत और चीन के तवांग सेक्टर के सैन्य कमांडरों के बीच सीमा पर शांति बहाली के लिए फ्लैग मीटिंग भी हुई।

संसद की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस ने तवांग झड़प का मुद्दा सदन के दोनों सदनों में उठाया। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने कहा कि सरकार सच्चाई छिपा रही है। पहली भी घुसपैठ हुई है, लेकिन सरकार देश को सच नहीं बता रही है। इसी तरह हंगामे के कारण लोकसभी का कार्यवाही स्थगित कर दी गई।

कांग्रेस ने भी अपने सांसदों और राज्यसभा सदस्यों की बैठक बुलाई है। पार्टी संसद में इस मामले को उठाने के लिए रणनीति बना रही है। कांग्रेस के कई सदस्यों ने सदन की कार्यवाही रोककर बहस की मांग की है।रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीनों सेना प्रमुखों के साथ इमरेजंसी बैठक बुलाई है। बैठक में विदेश मंत्री भी मौजूद हैं। माना जा रहा है कि अरुणाचल प्रदेश में चीन सीमा के ताजा हालात पर चर्चा होगी। रक्षा मंत्री 12 बजे लोकसभा और 2 बजे राज्यसभा में बयान जारी करेंगे।