Home India news Chhattisgarh news

वकीलों ने किया थाना के भीतर हल्ला-बोल, धरने पर बैठे वकील कर रहे हैं तहसीलदार के खिलाफ एफआईआर की मांग, जानिए क्या है पूरा मामला

Whatsapp button

कोरबा। तहसीलदार  और एक वकील के बीच हुआ विवाद पुलिस थाने तक जा पहुंचा। तहसील में कार्यरत भृत्य द्वारा वकील के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने से नाराज वकीलों ने पुलिस थाना में धरने पर बैठ गए।

वकील नायब तहसीलदार औऱ तहसीलदार के खिलाफ एफआईआर की मांग कर रहे हैं।मामला सोमवार की शाम का है। अधिवक्ता गोपाल यादव और कटघोरा तहसील के नायब तहसीलदार रवि राठौर के मध्य किसी बात को लेकर विवाद हुआ था।

यह भी पढ़ें – CORONA : 800 के पार : हेल्थ डिपार्टमैंट ने देर रात फिर जारी किया मेडिकल बुलेटिन – आज एक दिन में प्रदेश में 808 रिकार्ड मरीज मिले हैं : रायपुर ने भी तोड़ा अपना ही रिकॉर्ड : मौत का रूप हुवा भयानक : देखिए अपने गांव शहर का हाल…!!

वकीलों का आरोप है कि तहसीलदार और उनके कर्मचारियों ने वकील के साथ मारपीट करते हुए गाली गलौज की है।

आज इस मामले में तहसील के एक भृत्य शिवचरण के द्वारा कुछ वकीलो के खिलाफ कटघोरा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराया गया।

इस एफआईआर की जानकारी मिलते ही कटघोरा अधिवक्ता संघ से जुड़े वकीलों का गुस्सा फूट पड़ा और वे नारेबाजी करते हुए थाने आ पहुंचे।

यह भी पढ़ें – सावधान : रायपुर के मेकाहारा ने बनाया मौत का रिकॉर्ड… आठ मे से सात मरीजों की मौत मेकाहारा में …देखिए पूरी खबर…!!

वकीलों ने थाना प्रभारी अविनाश सिंह से भेंट करते हुए नायब तहसीलदार रवि राठौर और तहसीलदार रोहित सिंह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग करने लगे।

पुलिस ने उन्हें जांच के बाद कार्रवाई का आश्वासन दिया लेकिन अपनी मांगों पर अड़े वकील थाने परिसर में ही धरने पर बैठ गए।

उनकी मांग है कि जब तक नायब तहसीलदार व तहसीलदार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज नहीं की जाती वह यहां से टस से मस नहीं होंगे। कटघोरा थाने ने इसकी सूचना अपने उच्चाधिकारियों को दे दी है। कटघोरा थाना परिसर में ही वकील धरने पर बैठ गए हैं।

Youtube button

    विज्ञापन हेतु  संपर्क करें।