Friday, October 23, 2020
Tel: 8889075555
Home India news Chhattisgarh news

Breaking news : टोटल लॉकडाउन के चलते इस बार मंत्रालय ; संचालनालय और शासकीय कार्यालय भी रहेंगे बंद ; देखिये पूरी खबर

Whatsapp button

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण मरीजों की संख्या में लगातार वृद्वि के कारण मंत्रालय, संचालनालय सहित जिलों में कोरोना से मृत्यु दर उत्तरोत्तर बढ़ोतरी होने से अधिकारी कर्मचारियों व आम नागरिकों में ‘‘त्राहिमाम्-त्राहिमाम्‘‘ मचा हुआ था।

मंत्रालय संचालनालय में 07 दिवस कार्य एवं 14 दिन कोरोन्टाइन के समझौते के बाद भी लोक सेवकों व जनता के संक्रमण में उत्तरोत्तर वृद्वि से चिंतित छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने समस्त कार्यालय को बंद करने एवं केवल कोरोना से संबंधित कार्य करने की मांग मुख्यमंत्री भूपेश बधेल से निरंतर की जाती रही है।

अंततोगत्वा संध की मांग पर न केवल 07 दिवस समस्त कार्यालय, मंत्रालय, संचालनालय बंद रहेगें अपितु आम जनता भी अपने धरों में कड़ाई से ही सही सुरक्षित रहेगें।

लॉकडाउन ब्रेकिंग : अब तक का सबसे सख्त लॉकडाउन का निर्देश हुआ जारी … बिना वजह घर से निकलने वालों की गाड़ी होगी जब्त … पेट्रोल डीजल भी लोगों को नहीं मिलेगा , पूरे शहर में की जाएगी बेरिकेटिंग , जिला प्रशासन ने जारी किया आदेश

छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संध प्रदेशाध्यक्ष विजय कुमार झा एवं जिला शाखा अध्यक्ष इदरीश खाॅन ने बताया है कि इंद्रावती भवन, महानदी भवन, विभागाध्यक्ष कार्यालयों सहित जिलों के जिला तहसील, विकासखण्ड स्तर के कार्यालयों में बढ़ते संक्रमण के बाद भी कार्यालयों को सील न करने, संचालनालय कर्मचारी संध के आंदोलन करने पर उसकी उपेक्षा करते हुए केन्द्र व राज्य शासन के एडवाइजरी का पालन न कर मंत्रालय, संचालनालय को संचालित रखने के कारण अनेक शासकीय सेवकों व छत्तीसगढ़ के नागरिकों का दुखद् निधन हुआ।

जब प्रदेश में 22 से 25 मार्च में मात्र 9-10 एक्टिव प्रकरण व शीध्र स्वस्थ होकर, घर वापसी व मृत्यु संख्या 0 रहने पर दो-तीन बार लाॅक डाउन व कफ्र्यू लगया गया था, किंतु उसकी तुलना में हजारों गुना वृद्वि होने के बाद भी कार्यालयों को बंद न करने से आम जनता भी अपने कार्यो के लिए कार्यालयों में पहुंचकर अधिकारी कर्मचारी व जनता स्वयं संक्रमित हो रहे थे।

कोरोना के भय से चिकित्सालयों में हृदय, किडनी, केंसर, विशेषकर हार्टअटैक के प्रकरणों में शीध्र चिकित्सा सुविधा व एबुंलेंस की त्वरित सुविधा न मिलने के कारण अनेक नागरिकों व कर्मचारियों की दुखद् मृत्यु भी हो गया। इन परिस्थिति में संध बारंबार कार्यालयों को बद करने व केवल कोविड-19 से संबंधित कार्य ही कराने की मांग करता रहा है।

Corona Breaking : आज प्रदेश में 2617 नए कोरोना मरीज पाए गए ; 19 की मौत ; देखिये अपने शहर का कोरोना रिपोर्ट

अंततोगत्वा संध की मांग को राज्य शासन ने मान्य करते हुए तदाशय का आदेश आज 19 सितंबर को जारी करते हुए 21 सितंबर की रात्रि 9 बजे से 28 सितंबर राशि 12 बजे तक रायपुर जिले कन्टेंमेंट जोन धोषित् करने के कलेक्टर रायपुर डाॅ. एस. भारतीदासन के आदेश का संध के कार्यकारी प्रांतीय अध्यक्ष अजय तिवारी, महामंत्री उमेश मुदलियार, प्रांतीय सचिव विश्वनाथ ध्रुव, जी.एस.यादव, नरेश वाढ़ेर, अमर मुदलियार, प्रांतीय कोषाध्यक्ष रविराज पिल्ले, कुंदन साहू, राजू मुदलियार,

जवाहर यादव, स्वास्थ संयोजक संध प्रांताध्यक्ष टार्जन गुप्ता, प्रगतिशील अनियमित कर्मचारी कर्मचारी संध प्रांताध्यक्ष बजरंग मिश्रा, आलोक जाधव, विमलचंद्र कुण्डू, सुरेन्द्र त्रिपाठी, डाॅ. अरूंधति परिहार, प्रदीप उपाध्याय, सतीश शर्मा, नीलकंठ साहू, भजन बाध, होरी लाल छेद्इया, ए.जे.नायक, राजकुमार देशलहरे, संतोष धनगर, रवेन्द्र तिवारी, आदि नेताओं ने स्वागत् किया गया है।

Youtube button

 विज्ञापन के लिए संपर्क करें –  8889075555