Home India news Chhattisgarh news

राजधानी रायपुर में कोरोना को रोकने का एकमात्र उपाय है – जानिये अमित जोगी ने भूपेश सरकार को क्या सुझाव दिया ….

Whatsapp button

रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर जिले में कोरोनो संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलो पर चिंता जाहिर करते हुए जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी ने कहा कि रायपुर में कोरोना की बढ़ती रफ्तार को रोकने के लिए यहां लॉकडाउन लगाने के वाला राज्य सरकार के पास अब कोई दूसरा रास्ता नहीं बचा है। 

अमित जोगी ने इस संबंध में अपने ट्वीटर अकाउंट में लिखा है कि कोरोना कैपिटल रायपुर में कोविड-19 की आर ओ मतलब बेसिक रिप्रोडक्टिव रेट मात्र 7 दिनों में 0.7 से 7 पार कर चुकी है जो अपने आप में वल्र्ड रिकार्ड है। आर यह बताता है कि संक्रमण कितनी गति से फैल रहा है।

R-7 का मतलब एक संक्रमित व्यक्ति 7 लोगों को संक्रमित कर रहा है जबकि महामारी के चरम में इटली के लोमबारडी और अमरीका के न्यूयार्क में आर-5.6 से ज्यादा नहीं बढ़ा था।

कोरोना की रिपोर्ट पाजिटिव होने के बाद मरीजों के पास अनेक विकल्प, बिना लक्षण वाले मरीज घर पर भी डाक्टर से इलाज करा सकते हैं

अमित जोगी ट्वीट
अमित जोगी ट्वीट

ऐसे में छत्तीसगढ़ में अगले 30 दिनों में 1-2 लाख लोग गंभीर रूप से संक्रमित हो सकते है, जबकि प्रदेश में उपचार क्षमता इसकी 5 प्रतिशत भी नहीं है। ये छत्तीसगढ़ सरकार और केन्द्र सरकार दोनों की विफलता का अब तक का सबसे बड़ा प्रमाण है।

जोगी ने कहा कि राजनीति अपनी जगह है लेकिन छत्तीसगढ़ और रायपुर जिले में महामारी को रोकने के लिए मेडिकल इमरजेंसी घोषित करके टोटल लॉकडाउन करने के अलावा राज्य सरकार के पास और कोई दूसरा रास्ता नहीं बचा है।

अपने मोबाइल को करते है सैनेटाइज तो हो जाए सावधान ,शार्ट सर्किट का है खतरा !

Youtube button

 विज्ञापन के लिए संपर्क करें –  8889075555