शिवनाथ नदी में मिली दो युवकों की लाश…

625

सिटी न्यूज रायपुर / दुर्ग । शिवनाथ नदी में दो युवकों की सुबह लाश मिली है। एक शव की पहचान राजनांदगांव निवासी ऋषभ सिंघल के रूप में हुई है। ऋषभ के पास से पुलिस को सुसाइड लेटर भी मिला है। वह क्रेशर व्यवसायी का बेटा था। वहीं दूसरे युवक की पहचान की कोशिश की जा रही है।

ऋषभ सिंघल (26 साल) राजनांदगांव के वर्धमान नगर का रहने वाला था। ऋषभ के पिता अशोक सिंघल पेशे से क्रेशर व्यवसायी हैं। उनका ढेलकाडीह में अशोक सिंघल नाम से क्रेशर प्लांट है। उसे खुद अशोक सिंघल और उनका बेटा ऋषभ मिलकर देखते थे। घरवालों ने पुलिस को बताया कि बुधवार शाम को वह जिम जाने की बात कहकर बाइक से निकला था। जब रात तक वह घर नहीं लौटा तो परिजनों ने उसके मोबाइल में कॉल किया तो वो बंद बताया। इसके बाद परिजनों ने पुलिस में शिकायत की। पुलिस ने मोबाइल लोकेशन की जांच की तो वह दुर्ग का मिला।

गुरुवार को पुलिस जब दुर्ग में बघेरा के पास बने शिवनाथ नदी के ब्रिज पर पहुंची वहां ऋषभ की बाइक चप्पल व कपड़े मिले। इसके बाद एसडीआरएफ की टीम को बुलाया गया। एसडीआरएफ की टीम ने कई घंटे की खोज के बाद ऋषभ का शव बरामद कर लिया। उसके अलावा एक और शव को भी बरामद किया गया है। दूसरा शव भी 25-30 साल के युवक की बताया जा रहा है।

ऋषभ के कपड़ों से एक सुसाइड लेटर मिला है। उसमें उसने अपने माता पिता से मॉफी मांगते हुए लिखा है कि “मुझे माफ कर देना। मैं इस तरह अब और नहीं रह सकता हूं। इतने दिन तक आप लोगों का का चेहरा देखकर जिंदा रहा, लेकिन अब इस तरह और नहीं जी सकता हूं। इसलिए मैं खुदकुशी करने जा रहा हूं।” बताय जा रहा है कि ऋषभ चार साल पहले सड़क दुर्घटना में बुरी तरह घायल हो गया था। वह कई दिनों तक कोमा में भी रहा। इसके बाद वह ठीक तो हो गया, लेकिन उसका शरीर पहले की तरह स्वस्थ नहीं हो पाया। उसकी पूरी बॉडी रिकवर हो जाए इसके लिए वह जिम भी जाता था। लेकिन ऐसा न होने से वो मानसिक रूप से डिप्रेशन में रहता था।