राजधानी के इस थाने में सिपाही ने खुद को मारी गोली; डेढ़ माह पहले इसी थाने में सब इंस्पेक्टर ने लगाई थी फांसी

446

सिटी न्यूज रायपुर / गरियाबंद, छत्तीसगढ के गरियाबंद जिले के मैनपुर थाने में पदस्थ आरक्षक ने राइफल से खुद को गोली मार ली। उसने सुबह 10 बजे के करीब थाने में बने बैरक के पास सुसाइड किया। डेढ़ माह में इसी थाने में यह सुसाइड की दूसरी घटना है। उस समय यहीं ड्यूटी कर रहे सब इंस्पेक्टर ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी।  सुबह करीबन 10 बजे जब थाने के भीतर बैरक के पास से गोली चलने की आवाज आने के बाद थाने में मौजूद दूसरे सिपाही उधर दौड़े। वहां इन लोगों ने कॉन्स्टेबल दिनेश कोसले को लहुलुहान हालत में गिरे देखा। उसने राइफल से खुद को गोली मार ली थी। स्टाफ ने तुरंत अधिकारियों को जानकारी दी।

सूचना मिलते ही एडिशनल एसपी चंद्रेश सिंह ठाकुर मौके पर पहूच गए थे। अफसरों ने थाने के भीतर आवाजाही पर रोक लगा द। फोरेंसिक एक्सपर्ट राजधानी से जांच के लिए रवाना हो गए हैं। कहा जा रहा है कि तनाव के चलते आरक्षक ने यह आत्मघाती कदम उठाया है। ASP चंद्रेश सिंह ठाकुर ने बताया कि मामले की जांच जारी है। कॉन्स्टेबल के परिजनों को भी जानकारी दे दी गई। वह इसी जिले का रहने वाला था। परिजन पहुंच गए हैं, लेकिन अभी वे भी सुसाइड का कोई कारण नहीं बता पा रहे हैं।

अगस्त में एक सब इंस्पेक्टर ने लगाई थी फांसी
इसी थाने में 24 अगस्त को भी एक सब इंस्पेक्टर ने सुसाइड कर लिया था। उस मामले की जांच अभी चल ही रही है कि ये दूसरी घटना हो गई। मैनपुर थाने में पदस्थ एएसआई शंकर लाल सिदार ने थाना में ही फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। शंकर लाल सिदार 58 वर्ष के थे और यहां 01 नवंबर 2021से पदस्थ थे। वे काफी मिलनसार स्वभाव के थे। उनके इस तरह फांसी लगा लेने ने भी कई सवाल खड़े कर दिए थे। अभी वही मामला नहीं सुलझा है और ये दूसरी घटना हो गई।