शादी कर हैदराबाद से लौटे, जानकारी छिपाई, सर्दी-खांसी हुई तो खुद जाकर सैंपल दिया,आज रिपोर्ट पॉजिटिव आई

  • कॉलोनी में शहर के बड़े व्यापारी और उद्योगपति रहते हैं, मेकाहारा के दो कर्मचारियों को भी कोरोना, लैलूंगा में एक, कुल 5 नए मरीज

27 june 2020,

City News – CN  City news logo

रायगढ़ | शुक्रवार को शहर की पॉश फ्रेंड्स कॉलोनी से एक ही परिवार के दो लोग पॉजिटिव पाए गए। यह परिवार बेटी की शादी कर हैदराबाद से लौटा लेकिन प्रशासन को जानकारी नहीं दी। शक होने पर खुद ही सैंपल दिया और डॉक्टरों से पूछते रहे, सर हमारी रिपोर्ट आ गई, आज रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई।

जिले में पांच मरीज मिले। इनमें दो मेकाहारा के क्लर्क हैं और एक लैलूंगा से मिला है। प्रशासन और पुलिस की समझाइश के बाद भी संक्रमित क्षेत्रों से ट्रैवल कर लौट रहे लोग स्वास्थ्य विभाग को जानकारी नहीं दे रहे हैं। इसका परिणाम शुक्रवार को सामने आया। फ्रेंड्स कॉलोनी सील की गई है।  

शहर के फ्रेंड्स कालाेनी में रहने वाले एक उद्योगपति व बिल्डर के परिजन समेत 18 लोग शादी के लिए 12 जून को हैदराबाद गए। वहां से 16 जून को लौटे। जानकारी प्रशासन, पुलिस या स्वास्थ्य विभाग को नहीं दी।

सर्दी खांसी होने पर 22 जून को स्वास्थ्य विभाग ने सभी सदस्याें का सैंपल आरटीपीसीआर जांच के लिए भेजा। जिसमें दाे व्यक्तियाें में कोरोना की पुष्टि की गई है। 
फ्रेंड्स कॉलोनी में दो पॉजिटिव मिले हैं, परिवार के मुखिया उद्योगपति हैं।

ढिमरापुर रोड की एक बिल्डिंग में उनका ऑफिस है। हैदराबाद से लौटने के बाद ये ऑफिस आए। कॉलोनी के लोगों के साथ ही श्याम मंडल से जुड़े कुछ लोग इनसे मिलने और शादी कैसी रही यह पूछने भी गए।

फ्रेंड्स कॉलोनी में करीब 45 मकान हैं। एक अपार्टमेंट है जिसमें 24 फ्लैट्स हैं। इस तरह कॉलोनी को कंटेनमेंट जोन बनाए जाने के बाद इसमें करीब 69 परिवार कॉलोनी में घर से बाहर नहीं निकल पाएंगे।

पूंजीपथरा, तराईमाल या आसपास ज्यादा फैक्ट्रियों के संचालक, बड़े ठेकेदार, कारोबारी यहीं रहते हैं। रिपोर्ट पॉजिटिव आने से पहले परिवार ने एहतियात नहीं बरता। सिम्प्टोमेटिक यानि सर्दी, जुकाम जैसे कोरोना के लक्षण होने के कारण इनके संपर्क में आए लोगों पर खतरा है।

सारंगढ़, लैलूंगा और धरमजयगढ़ में सबसे ज्यादा मिले संक्रमित, अब शहर ने पकड़ी रफ्तार

बाहरी राज्य से आने वाले प्रवासी ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्र के हैं, विभाग ने इन्हें क्वारेंटाइन कराया। 81 संक्रमित मरीज गांवाें के हैं। जिसमें बरमकेला से 8, सारंगढ़ 22, खरसिया 8, पुसौर 9, लैलूंगा 21, धरमजयगढ़ 10, घरघाेड़ा 2 तथा शहरी क्षेत्र में शुक्रवार तक 23 मरीज मिल चुके हैं। ग्रामीण क्षेत्र में सबसे ज्यादा सारंगढ़, लैलूंगा और धरमजयगढ़ में मरीज मिले हैं। 

क्लर्क के बेटे के संपर्क में आए दो लोगों को कोरोना  

मेकाहारा के दो लिपिक शुक्रवार को कोरोना संक्रमित मिले। ये दोनों बुधवार को पॉजिटिव पाए गए घरघोड़ा में पदस्थ बजरंगपारा के क्लर्क के बेटे के संपर्क में आए थे। कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग में इनकी सैंपलिंग कराई गई थी।

आज रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इनमें एक टीवी टावर और दूसरा मधुबनपारा इलाके में रहता है। सीएमएचओ डॉ. एसएन केशरी ने कहा है कि क्लर्क रायपुर में भर्ती हैं और उनका बेटा साथ है। रायपुर में अब बेटे का सैंपल लिया जा रहा है।

यदि उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आएगी तो माना जाएगा कि मेकाहारा के दोनों क्लर्क को उससे कोरोना वायरस मिला है। एक मरीज लैलूंगा के क्वारेंटाइन सेंटर में मिला है। सीएमएचओ ने कहा, फ्रेंड्स कॉलोनी के साथ ही जहां भी मरीज मिले हैं वहां कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है।

मेकाहारा में बढ़ रहा खतरा

मेकाहारा में 2 जून काे गर्भवती महिला के संक्रमित मिलने के बाद एक गर्भवती संक्रमित पाई गई थी। इसके बाद गुरुवार काे जांजगीर-चाम्पा का भर्ती एक 17 वर्षीय किशाेर संक्रमित पाया गया था। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक इन्हें अलग से बनाए गए आइसाेलेशन वार्ड में रखा गया था।

वहीं शुक्रवार काे दाे में एक साथ कोरोना पाया गया है। इन्हें भी क्वारेंटाइन सेंटर से लाकर भर्ती किया गया था। मेकाहारा में लगातार एक के बाद एक भर्ती मरीजाें में मिल रहा कोरोना काे लेकर खतरा बढ़ गया है। अस्पताल प्रबंधन ने भी शुक्रवार देर शाम से ही सतर्कता और बढ़ा दी है।

डाॅ. रूपेंद्र की रिपोर्ट निगेटिव

शहर के बंजरगपारा और आदर्श नगर में काेराेना पॉजिटिव मिलने के बाद कंटेनमेंट जाेन बनाया गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीमाें ने एक्टिव सर्विलांस करके प्राइमरी कॉन्टेक्ट में आए लोगों के सैंपल भेजे थे। अशर्फी देवी के डाॅ. रूपेंद्र पटेल, गणेश भट्‌टाचार्य और अस्पताल के कर्मचारियों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

कुछ लोगों की रिपोर्ट आना बाकी है। शुक्रवार काे एसपी संताेष सिंह बजरंगपारा में सीएसपी अविनाश ठाकुर, टीआई एसएन सिंह के साथ पहुंचे। यहां पर लाेगाें काे घराें में रहने तथा जरूरत पड़ने पर पुलिस की मदद लेने के लिए लाेगाें काे हिदायत दी।

एसपी ने कहा कि कंटेनमेंट जोन में लोग घरों से बाहर बिल्कुल ना निकलें, किराना दुकान बंद रहे। जिन्हें जाे सामग्री की जरूरत हाे ऑनलाइन खरीदें और वॉलेंटियर के जरिए प्राप्त करें इस दौरान विशेष सावधानी बरती जाए।

 ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए हमारे

   YOUTUBE चैनल को सब्सक्राइब करें  

           WHATSAPP   ग्रुप से जुड़ें          

Source link

Share on :