10 june 2020

City News – CN

अयोध्या में राममंदिर निर्माण से पहले भगवान शिव की आराधना की जा रही है। श्रीराममंदिर निर्माण में कोई विघ्न बाधा न आए इसकी कामना से रामजन्मभूमि परिसर में 28 साल बाद कुबेर टीला स्थित कुबेरेश्वर महादेव का आज सुबह रुद्राभिषेक शुरू हुआ।श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष व मणिरामदास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास के उत्तराधिकारी कमल नयन दास रुद्राभिषेक कर रहे हैं। महंत कमलनयन दास रामजन्मभूमि परिसर पहुंच गए हैं। मंदिर मस्जिद विवाद के कारण कई वर्षों तक पूजा नहीं हो सकी थी। शिवलिंग पर जल नहीं चढ़ पाया था। 

संत-धर्माचार्यों के साथ परिसर में पहुंचे कमल नयन दास ने कहा कि रामजन्म भूमि पर भव्य मंदिर निर्माण की बाधाओं को दूर करने के लिए यह अनुष्ठान हो रहा है। पुरातात्विक कुबेर टीला 67.77 एकड़ भूमि के अंदर मौजूद है।

कुश्ती में जीत के बाद स्थानीय निवासी धनपत राम यादव द्वारा इस विशाल शिवलिंग की स्थापना की गई थी। प्रत्येक वर्ष शिवरात्रि के दिन बरात निकलती थी। मंदिर मस्जिद विवाद के बाद हुए अधिग्रहण के चलते लंबे समय तक कुबेरेश्वर महादेव की पूजा नहीं हो पाई। कमल नयन दास द्वारा आज परिसर के अंदर रुद्राभिषेक किया जा रहा है।

Source link