रायपुर। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर नगर निगम में आज सामान्य सभा की बैठक आहूत की गई। सत्तापक्ष और विपक्ष के सभी सदस्यों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। सदन में सत्ता पक्ष और विपक्ष के साथ निर्दलीय पार्षदों का भी स्थान तय है। लेकिन आज सामान्य सभा में बैठक व्यवस्था को लेकर ही दो निर्दलीय पार्षदों ने बवाल मचा दिया। सदन में उनके लिए जहां बैठक व्यवस्था तय की गई थी, निर्दलीय पार्षदों का रास नहीं आया और उन्होंने गर्भगृह में प्रवेश कर दिया, जिस पर सभापति ने दोनों पार्षदों को जमकर फटकार लगाई, साथ ही कहा कि यहां पर आपकी मर्जी नहीं चलेगी।

कोरोना संक्रमण काल की वजह से लंबे समय के बाद रायपुर नगर निगम की सामान्य सभा आज आहूत की गई। बैठक निर्धारित समय पर शुरू हुआ, लेकिन कार्रवाई में दो निर्दलीय पार्षदों ने अड़गा डाल दिया। पार्षद अमर बंसल और गोपीश साहू ने अपनी बैठक व्यवस्था को लेकर सवाल खड़े कर दिया और स्थान परिवर्तन की मांग की।

दरअसल, इन दोनों ही पार्षदों की बैठक व्यवस्था पीछे रखी गई है, जिस पर उन्होंने आपत्ति दर्ज करते हुए कहा कि यह उनके साथ अन्याय हो रहा है। वे सदन में बैठक व्यवस्था से संतुष्ट नहीं हैं।

सभापति प्रमोद दुबे ने दोनों पार्षदों को गर्भगृह से बाहर निकलकर अपने स्थान में बैठने के लिए कहा, लेकिन दोनों ही पार्षद अपनी मांग पर अड़े रहे और गर्भगृह में ही बैठ गए। इस पर सभापति प्रमोद दुबे ने नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि इस तरह से दोनों ही पार्षद सामान्य सभा की कार्रवाई को बाधित करने का प्रयास कर रहे हैं, जिसके लिए उन्हें सख्त निर्देश जारी करना पड़ सकता है। सभापति प्रमोद दुबे ने कहा कि यहां किसी की मर्जी नहीं चलेगी। व्यवस्था का पालन सभी को करना होगा।