रायपुर। राजधानी रायपुर में एक बार फिर पुलिस पर गंभीर आरोप लगे है। पीड़ितों ने इस मामले में थाना प्रभारी को तत्काल पदमुक्त करने सहित 2 दिनों के भीतर सही तरीके से जांच कर दोषियों पर कार्यवाही नहीं किये जाने पर पुलिस प्रशासन के अड़ियल रवैय्ये के चलते विरोध करते हुए चक्काजाम करने की चेतावनी दी है।

मामला सिविल लाइन थाना इलाके का है जहां सुरेश नियाल के घर पर काम करने वाली सुशीला तांडी की अचानक संदिग्ध अवस्था में मौत हो जाती है जिसके बाद परिजनों का आरोप है कि पोस्टमार्टम के लिए जब मृतिका को ले जाया जाता है तब आधे घँटे के भीतर ही फ़र्ज़ी रिपोर्ट थमाकर महिला की हृदयाघात से मृत्यु होना बताया जाता है जबकि शार्ट पीएम रिपोर्ट आने अभी शेष है।

इस मामले में पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए मृतक महिला के परिजनों ने मामले में लापरवाही बरतने व आरोपियों को बचाने की बात कहते हुए तत्काल सिविल लाइन थाना प्रभारी को हटाने सहित मामले की उचित जांच कर दोषियों पर कार्यवाही करने अन्यथा LIC कॉलोनी, बलौदाबाजार मुख्य मार्ग पर चक्काजाम करने की चेतावनी दी है। महिला के परिजनों ने महिला की हत्या की आशंका जताई है।

वही पुलिस इस मामले में अभी जांच की बात कह रही है। उन्होंने कहा कि जिस घर पर महिला कार्यरत थी वहां पर निवासरत व्यक्तियों से पूछताछ की जा रही है। शार्ट पीएम रिपोर्ट आने के पश्चात ही मामले को सही दिशा मिल पाएगी।