CM बघेल की दो टूक – देश तय करेगा रेवड़ी क्या है RAIPUR: बीजेपी MLA अजय ने CM बघेल से माँगा समय, बोले – बहस की जरुरत, प्रदेश की कौन सी योजना जनकल्याणकारी और कौन सी रेवड़ी

342

Raipur। मुफ़्त की रेवड़ी मुद्दे पर प्रदेश में भी सियासत सरगर्म हो गई है।बीजेपी के वरिष्ठ विधायक और मुख्य प्रवक्ता अजय चंद्राकर ने मुख्यमंत्री बघेल से इस मसले पर बहस के लिए समय माँगा है,विधायक अजय चंद्राकर ने जो बीजेपी के प्रमुख प्रवक्ता भी हैं उन्होने राज्य में चल रही याेजनाओं को लेकर सवाल किया है कि, कौन सी याेजना जनकल्याणकारी है और कौन सी रेवडी है। वहीं सीएम बघेल ने रेवड़ी मसले पर कहा है कि, देश तय करेगा कि, रेवड़ी क्या है।

MLA और बीजेपी प्रवक्ता अजय का सवाल बीजेपी के विधायक और प्रमुख प्रवक्ता अजय चंद्राकर ने मुफ़्त की रेवड़ियों के मसले पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बहस के लिए समय देने का आग्रह किया है। MLA अजय चंद्राकर ने कहा…

“सुप्रीम कोर्ट और राजनैतिक हल्क़ों में “मुफ़्त की रेवड़ियों” पर बहुत बहस हो रही है। इस पर छत्तीसगढ़ में भी बहस की जरुरत है, माननीय मुख्यमंत्री बघेल जी को इस बहस के लिए समय देना चाहिए। प्रदेश की कौन सी योजना जनकल्याणकारी है और कौन सी रेवड़ियाँ है, यदि माननीय मुख्यमंत्री जी समय दे दें तो इस पर बहस हो जाए”

CM बघेल की दो टूक – देश तय करेगा रेवड़ी क्या है!

सुबह अजय चंद्राकर के इस ट्विट के बाद यही विषय एक अन्य कार्यक्रम में पीएम मोदी के हवाले से सवाल की तर्ज़ पर सीएम बघेल के सामने आया। मुख्यमंत्री बघेल ने इस पर प्रतिप्रश्न करते हुए पूछा कि, ग़रीबों को अनाज देना क्या रेवड़ी है। सीएम बघेल ने कहा…

“देश और प्रदेश के ख़ज़ाने पर सबका अधिकार हैं, लोगों को भोजन नहीं मिल पा रहा है, मकान नहीं बन पा रहे हैं, ऐसे में रेवड़ी बांटना किसे कहा जाएगा, न्यूनतम आवश्यकता को समझना होगा, बीमार उद्योग को मदद पहुँचाना, गरीबों को अनाज देना क्या रेवड़ी है. देश को तय करना होगा – रेवड़ी क्या है, ये अच्छा है कि इस पर चर्चा तेज़ होगी”