हड़ताली कर्मचारी नेताओं से बोले मंत्री सिंहदेव- पांच हजार करोड़ देने की सरकार की औकात नहीं

444

रायपुर,  राज्य के हड़ताली कर्मचारियों के प्रतिनिधिमंडल से चर्चा करते हुए राज्य सरकार के मंत्री टीएस सिंहदेव ने कह दिया कि सरकार की इतनी औकात ही नहीं है कि आपको पांच हजार करोड़ दे सके। उनका यह वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल होते ही विवाद खड़ा हो गया है। भाजपा ने इस बहाने राज्य सरकार को निशाने पर ले लिया।

पूर्व मुख्यमंत्री डा रमन सिंह ने वीडियो को ट्वीट करके कहा कि कांग्रेस सरकार के एक वरिष्ठ मंत्री खुद कह रहे हैं कि सरकार के पास पैसा देने की औकात नहीं है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कुप्रबंधन ने छत्तीसगढ़ को कर्ज में डुबाकर दिवालिया कर दिया है। न वेतन देने के पैसे हैं, न ही घोषणा पत्र के वादे पूरा करने के पैसे हैं। भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ के मिस्टर बंटाधार हैं।

सिंहदेव ने डा रमन के ट्वीट को रिट्वीट करके कहा कि शब्दों के चयन में मुझसे बड़ी त्रुटि हुई है, जिस पर मैं खेद व्यक्त करता हूं। छत्तीसगढ़ सरकार को और अधिक खर्च करने में केंद्र सरकार का आर्थिक असहयोग बाधा बना हुआ है। आज केंद्र सरकार के पास छत्तीसगढ़ की जनता के 20 हजार करोड़ से अधिक की राशि लंबित है। कृपया प्रदेशवासियों के हक में इसके लिए आप भी सहयोग करें।

कर्मचारी नेताओं से मंत्री सिंहदेव ने यह कहा

2.20 मिनट के वीडियो में मंत्री टीएस सिंहदेव ने कर्मचारी नेताओं से कहा कि मैं आप लोगों की तरफ से ही बोल रहा हूं। सरकार की तरफ से नहीं बोल रहा हूं। पैसा हो तब तो देंगे। जो आप कह रहे हैं, वह मैं बिल्कुल समझ रहा हूं, लेकिन पैसा नहीं है। ईमानदारी की बात है। आप लोगों की बातचीत में सुन रहा था कि आपका पांच-छह हजार करोड़ रुपये बन रहा है, तो सरकार की पांच-छह हजार करोड़ रुपये देने की औकात ही नहीं है। 40 हजार करोड़ स्र्पये तो दे रही है सरकार। जब कर्मचारी नेताओं ने कहा कि गरीब से गरीब राज्य के कर्मचारियों को मिल रहा है तो सिंहदेव बोले, यहां नरवा, गरवा, गोबर में ज्यादा हो गया है। अभी नियमितीकरण करना है, उसमें भी खर्चा आएगा। मैं आपकी मांग को सीएम तक पहुंचा दूंगा।