भाजपा प्रदेश प्रवक्ता केदार गुप्ता का मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर गंभीर आरोप : टी एस सिंह देव को निपटाने के बाद अब विकास उपाध्याय व मोहन मरकाम की बारी,पुनिया कांग्रेस के प्रभारी कम और भूपेश के सिपहसालार ज्यादा…

432

चुनाव दिखावा है, सीएम के सामने आ रही चुनौती खत्म करना असल मकसद- केदार गुप्ता 

रायपुर।  प्रदेश भाजपा प्रवक्ता केदार गुप्ता ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी की बैठक पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि कांग्रेस में अब आंतरिक लोकतंत्र तो बचा नहीं है। यह बैठक दिखावा करने के लिए की गई। इस बैठक का मुख्य उद्देश्य भूपेश बघेल के लिए कांग्रेसियों द्वारा उत्पन्न की जा रही चुनौतियों को ही समाप्त कर देना है। 

प्रदेश भाजपा प्रवक्ता केदार गुप्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने मुख्य प्रतिद्वंद्वी टीएस सिंह देव को डेलीगेट नहीं बनने दिया। भविष्य की संभावित चुनौती युवा नेताओं से भी भुपेश डर रहे हैं इसलिए विकास उपाध्याय को भी डेलीगेट नहीं चुना गया। जबकि वे कांग्रेस के राष्ट्रीय पदाधिकारी हैं। अब ऐसा लगता है कि इस बैठक के बहाने प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम के पर कतरने की तैयारी है। 

भाजपा प्रवक्ता केदार गुप्ता ने  कांग्रेस के दौरे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि इस सरकार में इतना नैतिक बल नहीं बचा है कि वे अपने विधायकों के क्षेत्र में जा सके। क्योंकि वहां की जनता और कांग्रेस के कार्यकर्ता इनके कार्यों से नाराज हैं। उनके सवालों का जवाब देने की हिम्मत वादा खिलाफी करने वाली कांग्रेस सरकार में नहीं है।

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता केदार गुप्ता ने कहा कि कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी अपने संगठन में मची महाभारत को तो सम्हाल नहीं पा रहे हैं और भाजपा संगठन को लेकर ज्ञान बांट रहे हैं। पुनिया का एकमात्र काम भूपेश बघेल के विरोधियों का पत्ता कटवाना है। वे कांग्रेस की बैठकों में मोहन मरकाम को नीचा दिखाने के लिए भूपेश बघेल की हां में हां मिलाते रहते हैं। जनता तो समझ ही रही है, कांग्रेस के कार्यकर्ता भी समझ चुके हैं कि कांग्रेस की यह चतुर जोड़ी मिलकर क्या गुल खिला रही है। पुनिया कांग्रेस के प्रभारी कम और भूपेश बघेल के सिपहसालार ज्यादा नजर आ रहे हैं।