भाजपा प्रदेश अध्यक्ष की कमान संभालने के बाद राजधानी पहुंचे अरुण साव, एयरपोर्ट पर जोशीला स्वागत

342

रायपुर, छत्तीसगढ़ भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष की कमान मिलने के बाद अरुण साव शनिवार करीब दो बजे रायपुर पहुंचे। अरुण साव के स्‍वागत के लिए विमानतल पर नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, रायपुर सांसद सुनील सोनी, विधायक बृजमोहन अग्रवाल, पूर्व मंत्री ननकीराम कंवर, सौरभ सिंह, महेश गागड़ा सहित भाजपा के सभी बड़े नेता मौजूद रहे। वहीं साव के स्‍वागत के लिए एयरपोर्ट पर पहुंचे सैकड़ों की संख्‍या में भाजपा कार्यकर्ताओं में भारी उत्‍साह देखा जा रहा है। इस दौरान मीडिया से बातचीत में प्रदेश अध्‍यक्ष अरुण साव ने कहा कि चुनाैती तो है लेकिन उसका सामना करेंगे। कार्यकर्ता काफी उत्‍साहित हैं। उन्‍होंने कहा कि 2023 में छत्‍तीसगढ़ में फिर कमल खिलाएंगे।

अरुण साव सीधे प्रदेश कार्यालय न जाकर संभाग कार्यालय एकात्म परिसर पहुंच रहे हैं। भाजयुमो के कार्यकर्ताओं की अगुवानी में साव का काफिला स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट से भाजपा कार्यालय एकात्म परिसर की ओर रवाना हुआ। इस दौरान साव का जगह-जगह स्वागत हुआ।

बदलाव के दौर में गुटों में बंटी राजनीति

इधर, छत्तीसगढ़ भाजपा में बदलाव के बाद गुटों में बंटी राजनीति अब खुलकर सामने आ रही है। भाजपा केंद्रीय नेतृत्व ने प्रदेश अध्यक्ष के रूप में बिना किसी गुट वाले अरुण साव का चयन किया। इसके बाद से डा रमन सिंह और उनके विरोधी खेमे के नेताओं की सक्रियता अचानक कम हो गई है। साव की नियुक्ति के बाद से पार्टी का एक धड़ा सन्नाटे में आ गया है।

प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद अरुण साव ने गुरुवार को राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की। इससे भाजपा की आंतरिक राजनीति गरम हो गई है। भाजपा के उच्च पदस्थ सूत्रों की मानें तो साव के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद जिलाध्यक्षों की नियुक्ति होगी। ऐसे में रायपुर शहर जिलाध्यक्ष के लिए खींचतान शुरू हो गई है। जिलाध्यक्ष पद के दावेदार नेता जोरदार तैयारी के साथ एयरपोर्ट पहुंचने की तैयारी में हैं।

वहीं, मोर्चा-प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष पद पर भी बदलाव होगा। युवा मोर्चा के लिए राजधानी रायपुर के ओबीसी वर्ग के एक युवा नेता की दावेदारी सामने आ रही है। वहीं, जशपुर के एक युवा आदिवासी नेता भी संघ के भरोसे ताल ठोंक रहे हैं। दोनों नेता युवा मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में है। वहीं, रायपुर जिलाध्यक्ष के लिए सामान्य वर्ग के एक पार्षद चुनाव हारे नेता की दावेदारी सामने आ रही है। हालांकि यह संकेत मिल रहे हैं कि रमन सरकार के समय सत्ता या संगठन में भागीदार रहे नेताओं को बड़ी जिम्मेदारी नहीं मिलेगी। इस फार्मूले पर पार्टी चलती है, तो रायपुर शहर जिलाध्यक्ष पद पर भी किसी नए चेहरे को मौका मिल सकता है।

खूबचंद से लेकर श्यामा प्रसाद-गांधी को करेंगे नमन

नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव रायपुर में खूबचंद बघेल से लेकर जनसंघ के संस्थापक श्याम प्रसाद मुखर्जी और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को नमन करेंगे। एकात्म परिसर से तिरंगा यात्रा निकलकर श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा तक जाएगी। इसके बाद साव नवीन बाजार स्थित डा खूबचंद बघेल की प्रतिमा पर माल्यार्पण करेंगे। तत्यापारा चौक स्थित छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा और आजाद चौक स्थित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण करेंगे।