छत्तीसगढ़ में भाजपा की चुनावी तैयारी परखने आएंगे शाह-नड्डा,संगठन के कामकाज की समीक्षा भी होगी

245

रायपुर,  छत्तीसगढ़ में वर्ष 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी को परखने के लिए भाजपा के केंद्रीय नेता प्रदेश के दौरे पर आएंगे। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का 22-23 अगस्त को दौरा प्रस्तावित है। वहीं, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह 17 या 27 अगस्त को प्रदेश के दौरे पर आ सकते हैं। अब तक दोनों नेताओं के कार्यक्रम को अंतिम रूप नहीं दिया गया है। हालांकि प्रदेश संगठन ने केंद्रीय नेताओं के दौरे की तैयारी शुरू कर दी है।

भाजपा के केंद्रीय संगठन ने चुनाव को देखते हुए हर मोर्चे को अलग-अलग लक्ष्य दिया है। युवा मोर्चा को बेरोजगारी टेंट लगाने का निर्देश दिया गया है। युवा मोर्चा के पदाधिकारी जिलों में इस कार्यक्रम को कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या का भी छत्तीसगढ़ दौरा प्रस्तावित है। ऐसे में 15 अगस्त के बाद केंद्रीय नेताओं की दस्तक शुरू हो जाएगी। भाजपा के उच्च पदस्‍थ सूत्रों की मानें तो अब तक दस केंद्रीय मंत्रियों ने प्रदेश का दौरा किया है। आकांक्षी जिलों के कामकाज की समीक्षा रिपोर्ट केंद्रीय गृह मंत्रालय को सौंपी गई है।

अमित शाह इस रिपोर्ट के आधार पर केंद्र की योजनाओं के प्रभाव का आकलन करेंगे। इसके साथ ही भाजपा में संगठन स्तर पर बदलाव की भी चर्चा है। विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश में आक्रामक प्रदेश अध्यक्ष की मांग उठ रही है। इसे देखते हुए पार्टी आक्रामक नेता की तलाश कर रही है, जो युवा हो और राज्य सरकार की गलत नीतियों पर घेरने की क्षमता रखता हो। प्रदेश संगठन में कई पदों पर बदलाव की भी चर्चा है। हालांकि इस पर अंतिम निर्णय केंद्रीय संगठन को करना है। पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह ने भी बदलाव की संभावना से इनकार नहीं किया है। उन्होंने कहा कि बदलाव करना केंद्रीय नेतृत्व का विशेषाधिकार है।

जामवाल प्रदेश में डालेंगे डेरा, हर विधानसभा क्षेत्र का करेंगे दौरा

विधानसभा चुनाव को देखते हुए भाजपा ने क्षेत्रीय संगठन मंत्री के रूप में अजय जामवाल की नियुक्ति की है। जामवाल ने तीन दिन में प्रदेश के पदाधिकारियों से संवाद किया है। इसकी रिपोर्ट केंद्रीय संगठन को सौंपी गई है। जामवाल के साथ प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदेव साय और संगठन महामंत्री पवन साय भी दिल्ली गए थे। वहां केंद्रीय नेताओं से एक-एक विषय पर चर्चा हुई। इस चर्चा में प्रदेश सहप्रभारी नितिन नबीन भी मौजूद थे। हालांकि प्रदेश प्रभारी डी. पुरंदेश्वरी इस बैठक में शामिल नहीं हो पाईं थीं। जामवाल अब सप्ताह में तीन दिन रायपुर में रहेंगे और कार्यकर्ताओं से मिलेंगे। साथ ही हर विधानसभा क्षेत्र का दौरा भी करेंगे।