छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल की उप सचिव सौम्या चौरसिया के ठिकानों पर IT के छापे

1977

रायपुर : छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के कार्यालय में तैनात उप सचिव सौम्या चौरसिया के दो ठिकानों सहित सात जगहों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की है. अन्य पांच ठिकाने बिजनेसमैन सूर्यकांत तिवारी से जुड़े बताए जा रहे हैं. समाचार एजेंसी के अनुसार, आयकर विभाग छत्तीसगढ़ में कई जगहों पर छापेमारी कर रहा है. रायपुर, दुर्ग, महासमुंद और कुछ अन्य जगहों पर तलाशी जारी है. तलाशी अभियान में शामिल परिसरों में सीआरपीएफ और स्थानीय पुलिस की भारी तैनाती कर दी गई है.

बता दें कि साल 2020 में भी छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के करीबी समझे जाने वाले सहायकों, राजनीतिकों, नौकरशाहों और व्यवसायियों के परिसरों पर आयकर विभाग के तलाशी अभियान चले थे. जिसके बाद राजधानी रायपुर की सियासी गर्मी तेजी से बढ़ी थी और पूरा प्रकरण केंद्र बनाम राज्य में बदल गया था.

फरवरी 2020 में छह दिन तक आयकर विभाग का तलाशी अभियान चला था. उस दौरान रायपुर के नवनिर्वाचित मेयर एजाज ढेबर, पूर्व मुख्य सचिव तथा रेरा के अध्यक्ष विवेक ढांड, उद्योग विभाग के निदेशक अनिल टुटेजा और ब्यूटी पार्लरों की शृंखला चलाने वाली उनकी पत्नी मीनाक्षी, शराब कारोबारी अमोलक भाटिया, आबकारी अधिकारी अरुणपति त्रिपाठी, कांग्रेस के कोषाध्यक्ष और मुख्यमंत्री सचिवालय में उपसचिव सौम्या चौरसिया शामिल थीं. उस समय यह तलाशियां पूरी गोपनीयता के साथ आयकर विभाग की दिल्ली शाखा ने ली थी और कार्रवाई शुरू होने के पहले तक उसकी स्थानीय जांच इकाई को कुछ नहीं पता था. !!