Treatments of lotus dental clinic birgaon

यूजी व पीजी, बीएड के कोर्सेस के लिए एक अतिरिक्त चरण की समय-सारणी जारी कर दी गई है।

मध्‍य प्रदेश उच्च शिक्षा विभाग द्वारा आनलाइन प्रवेश प्रक्रिया 25 मई से शुरू की गई है। अब तक स्नातक और स्नातकोत्तर स्तर पर प्रवेश के लिए एक केंद्रीयकृत चरण और तीन कालेज लेवल काउंसलिंग (सीएलसी) के सभी चरण पूर्ण किए गए हैं।

खाली सीटें भरने की संभावना

वर्तमान में अब तक यूजी व पीजी में 5.06 लाख प्रवेश हुए हैं। अभी भी 4.54 लाख सीटें खाली हैं। अब चतुर्थ सीएललसी राउंड में खाली सीटें भरने की संभावना है।

50 प्रतिशत विद्यार्थियों ने महाविद्यालयों में प्रवेश लिया

स्नातक स्तर पर तीन लाख 92 हजार और स्नातकोत्तर स्तर पर एक लाख 36 हजार से अधिक विद्यार्थियों ने प्रवेश लिया है। इस साल 12वीं से उत्तीर्ण होने वाले विद्यार्थियों की संख्या लगभग सात लाख है। इसमें से 50 प्रतिशत विद्यार्थियों ने महाविद्यालयों में प्रवेश ले लिया है।

12 अगस्त से पांचवां सीएलसी चरण

हाल में 12वीं पूरक परीक्षा का परिणाम जारी किया गया है। इस कारण रुक जाना नहीं योजना के उत्तीर्ण विद्यार्थियों के लिए 12 अगस्त से पांचवां सीएलसी चरण शुरू किया जा रहा है।

उच्‍च शिक्षा विभाग का यह लक्ष्‍य

उच्च शिक्षा विभाग का यह प्रयास है कि जो विद्यार्थी महाविद्यालय में प्रवेश लेना चाहते हैं, वे कालेज लेवल काउंसलिंग के माध्यम से अपने मनपसंद महाविद्यालय में मेरिट के आधार पर प्रवेश प्राप्त कर सकते हैं।इसका अवसर उच्च शिक्षा विभाग उन्हें प्रदान कर रहा है।

बीएड के लिए भी अतिरिक्त चरण शुरू होगा

इसके साथ ही उच्च शिक्षा विभाग द्वारा बीएड सहित एनसीटीई के सभी नौ पाठ्यक्रमों के लिए भी काउंसलिंग की प्रक्रिया समानांतर रूप से संचालित की जा रही है। कालेजों में 71 हजार सीटों के लिए काउंसलिंग की प्रक्रिया शुरू की गई है, जिसमें से 62 हजार से अधिक विद्यार्थियों ने प्रवेश ले लिया है। शेष आठ हजार विद्यार्थियों के लिए मंगलवार को तीसरा अतिरिक्त चरण शुरू किया गया है। शेष विद्यार्थियों को रिक्त स्थानों पर प्रवेश करने के लिए च्वाइस फिलिंग का अवसर 12 अगस्त तक प्राप्त होगा।