बोरवेल में गिरे 5 साल के दीपेंद्र को 7 घंटे के रेस्क्यू में रस्सी से खींचकर सकुशल बाहर निकाला ….

920

भोपाल। छतरपुर जिले नारायणपुरा गांव में बोरवेल में गिरे 5 साल के दीपेंद्र यादव को सकुशल बाहर निकाल लिया गया है। करीब 7 घंटे चले रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद दीपेंद्र को सुरक्षित निकाला गया। फिलहाल उसे डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है।

वहीं बेटे को बचाने पर परिजन रेस्क्यू टीम और प्रशासन को धन्यवाद दिया है। दरअसल, नारायणपुरा के रहने वाले अखिलेश यादव का 5 साल का बेटा दीपेंद्र यादव अपने खेत में खेल रहा था, जहां पर वह खेल रहा था वहीं पर बोरवेल का गड्ढा था। परिवार के अनुसार बोरवेल चीफ से ढका हुआ था, मगर दीपेंद्र खेलते-खेलते बोरवेल के अंदर गिर गया।

करीब सात घटे तक चला रेस्क्यू

SDRF की 15 सदस्यीय और सेना की 12 सदस्यीय टीम ने करीब 7 घंटे रेस्क्यू ऑपरेशन चलाकर दीपेंद्र को सकुशल बाहर निकाला। इस दौरान 6 थाने की पुलिस भी मौजूद थी। दीपेंद्र करीब 25 फीट की गहराई में फंसा था। इस दौरान उसे ऑक्सीजन भी दी गई।

सीएम शिवराज ने ट्वीट करते हुए लिखा किरंग लाईं आप सभी की दुआएं! प्रदेशवासियों की दुआओं, जिला प्रशासन और रेस्क्यू टीम के अथक प्रयासों से बोरवेल में फंसे बेटे दीपेंद्र को सकुशल और सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है। दीपेंद्र पूर्ण रूप से स्वस्थ है। फिलहाल उसे डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है

वहीं कमलनाथ ने लिखा- बोर वेल में फंसे छतरपुर के मासूम बालक दीपेंद्र यादव को 7 घंटे तक चले अभियान के बाद बचाव दल ने सकुशल बाहर निकाल लिया। दीपेंद्र को इस नवजीवन की बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएं। ईश्वर करे आप बड़े होकर अपने माता-पिता और देश का नाम रोशन करें।