अघोर – परम्परा के सन्तों के नाम बँटा स्वर्ण पदक…

352

सिटी न्यूज़ …..अब बुढ़ऊ बाबा बौर गुरुपद बाबा के नाम पर भी स्वर्ण पदक पूज्यपाद बाबा गुरुपद संभव राम जी के नेतृत्व में मेधावियों को प्रोत्साहित करने की दिशा में संस्था के प्रयास का ही यह सुफल है कि अब काशी हिन्दू विश्वविद्यालय , वाराणसी में पूज्यपाद बाबा राजेश्वर राम जी ( बुढ़ऊ बाबा ) और पूज्यपाद बाबा गुरुपद संभव राम जी के नाम पर भी स्वर्ण पदक का सृजन हो गया है । ये पदक प्रत्येक वर्ष क्रमशः बी ० ए ० आनर्स ( दर्शनशास्त्र ) और एम ० ए ० ( दर्शनशास्त्र ) की परीक्षा में सर्वोच्च अंक अर्जित करने वाले मेधावियों को प्रदान किया     जाएगा

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय ने सत्र २०१६-१७ से ही अपनी इन्हीं परीक्षाओं में सर्वोच्च अंक अर्जित करने वाले विद्यार्थियों को क्रमशः परमपूज्य अघोराचार्य महाराज श्री बाबा कीनाराम जी एवं परमपूज्य अघोरेश्वर महाप्रभु बाबा भगवान राम जी के नाम पर संस्था के सहयोग से स्वर्ण पदक देना प्रारम्भ कर दिया है । अतएव , काशी हिन्दू विश्वविद्यालय – जैसे नामचीन विद्या संस्थान में अघोर परम्परा के चार प्रमुख आचार्यों के नाम पर स्वर्ण पदक का सृजन केवल श्री सर्वेश्वरी समूह के लिये ही नहीं , वरन् पूरे संत समाज के लिये गर्व का विषय है ।