• अस्पताल में एंबुलेंस खड़ी होने के बाद भी दर्द से तड़पती रही गर्भवती
  • एक कार वाले ने उन्हें प्राइवेट हॉस्पिटल पहुंचाया, तब तक बच्ची की मौत हो चुकी थी

14 june 2020

City News – CN      City news logo

सोनीपत | हरियाणा के सोनीपत जिले में डॉक्टरों की लापरवाही का मामला सामने आया है, जिसके कारण एक गर्भवती महिला के पेट में ही बच्ची ने दम तोड़ दिया। पीड़ित महिला का पति दो घंटे तक भटकता रहा, लेकिन उसे एम्बुलेंस नहीं। अब पीड़ित परिवार घटना की शिकायत स्वास्थ्य मंत्री से करने वाला है।

घटना सोनीपत के मुरथल गांव की है। सोनू ने बताया कि उनकी पत्नी के गर्भ में जुड़वा बेटियां थीं। वे शनिवार को पत्नी की डिलीवरी कराने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएसी) पहुंचे। यहां एक बच्ची की नॉर्मल डिलीवरी की गई, फिर डॉक्टरों ने कहा कि दूसरा बच्चा पेट में तिरछा है, इसलिए उन्हें पत्नी को किसी दूसरे अस्पताल में ले जाना होगा। डॉक्टरों ने एम्बुलेंस का इंतजाम भी सोनू को ही करने को कहा।

एम्बुलेंस के लिए मिन्नतें कीं, लेकिन डॉक्टर ने मना किया

सोनू का कहना है कि अस्पताल में एंबुलेंस खड़ी थी, लेकिन डॉक्टरों का कहना था कि ड्राइवर नहीं है। इसके लिए उसने डॉक्टरों के हाथ भी जोड़े, लेकिन कोई मदद नहीं मिली। बाद में एक कार वाले ने उन्हें प्राइवेट हॉस्पिटल पहुंचाया, लेकिन तब तक दूसरी बेटी की पेट में ही मौत हो चुकी थी। अस्पताल के एसएमओ डॉ. संजय छिक्कारा का कहना है कि जांच के आदेश दिए गए हैं। दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए  – 

हमारे   FACEBOOK  पेज को   LIKE   करें

सिटी न्यूज़ के   Whatsapp   ग्रुप से जुड़ें

हमारे  YOUTUBE  चैनल को  subscribe  करें

Source link