पत्नी अपने पति से जिंदगी भर छिपाती है ये 5 बातें , जानिए चाणक्य नीति से

18025

आचार्य चाणक्य ने अर्थशास्त्र समेत कई विषयों पर अध्ययन करके कई तरह की बातों का उल्लेख किया है। आचार्य चाणक्य के अनमोल विचार बहुत ही प्रसिद्ध है। आचार्य चाणक्य के द्वारा बताई गई कई बातें आज के समय में भी प्रासंगिक है। चाणक्य ने बहुत ही सरल तरीके से जीवन जीने की कला के बारे विस्तार से बताया है। आइए जानते है। 

आचार्य चाणक्य ने अर्थशास्त्र समेत कई विषयों पर अध्ययन करके कई तरह की बातों का उल्लेख किया है। आचार्य चाणक्य के अनमोल विचार बहुत ही प्रसिद्ध है। आचार्य चाणक्य के द्वारा बताई गई कई बातें आज के समय में भी प्रासंगिक है। चाणक्य ने बहुत ही सरल तरीके से जीवन जीने की कला के बारे विस्तार से बताया है।

जिसे अपनाकर जीवन को सुखी बनाया जा सकता है। आचार्य चाणक्य ने व्यक्ति के रिश्ते खासतौर पर पति-पत्नी के बारे में विस्तार से बताया है। चाणक्य नीति के अनुसार पत्नी कुछ बातें अपने पति से कभी भी नहीं बताती हैं उसे जीवन भर छिपाकर रखती हैं। लेकिन पत्नी द्वारा छिपाई गई बातें से पति-पत्नी के पवित्र रिश्ते पर कोई भी नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ता है बल्कि दोनों के रिश्ते और मजबूत हो जाते हैं। तो आइए जानते हैं आखिरकार ऐसी कौन-कौन सी बातें ऐसी होती हैं जो पत्नी कभी भी अपने पति को नहीं बताती।

बडी खबर : पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने बेटे-बेटी के साथ BJP जॉइन की:अपनी पार्टी का भाजपा में विलय किया, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने दिलाई सदस्यता

अपने सीक्रेट क्रश के बारे में-

ज्यादातर महिलाओं की जिंदगी में शादी के पहले या बाद में कोई न कोई सीक्रेट क्रश जरूर होता है। महिलाएं ऐसे व्यक्ति को मन ही मन बेहत पसंद करती हैं। लेकिन अपने सीक्रेट क्रश के बारे में किसी दूसरे व्यक्ति के साथ साझा नहीं करती हैं। शादीशुदा महिलाएं कभी भी अपने सीक्रेट क्रश के बारे अपने पति को नहीं बताती हैं।

फैसले नापसंद फिर भी हामी भरना-

सुखी और तनाव रहित जीवन जीने के लिए घर के तमाम छोटे-बड़े फैसलों में पति-पत्नी दोनों की सहमति होना जरूरी होता है। वहीं वैवाहिक जीवन से सबंधित कुछ फैसले ऐसे होते हैं जिसमें पत्नी की सहमति नहीं होती लेकिन वह पति के फैसले में हमेशा साथ देती है। इसके पीछे पत्नी की मंशा केवल इतनी होती है कि घर में किसी तरह का कोई विवाद न होने पाए। पत्नी कभी भी अपनी नापसंदगी को चेहरे से जाहिर नहीं होने देती है। 

धन की बचत को छिपाना-

औरतों को घर की लक्ष्मी भी कहा जाता है। पत्नी को घर की लक्ष्मी की संज्ञा ऐसे ही नहीं दी जाती है। जब कभी भी घर या पति के सामने आर्थिक संकट की स्थिति पैदा होती तो पत्नी बैंक के रोल में आ जाती हैं। कभी भी पत्नियां अपने पतियों से अपने बचत के पैसों के बारे में सही-सही नहीं बताती हैं। बचत के पैसों को वह हमेशा छिपा कर ही रखती हैं। पत्नी के द्वारा छिपाए गए पैसे घर में आए आर्थिक संकट को दूर करने में बड़े ही काम आते हैं।

राजनीतिक दलों के चंदे पर लगेगी लगाम; चुनाव आयोग ने कानून मंत्रालय को पत्र लिखकर की यह सिफारिश

अपनी बीमारी को छिपाना-

पुरुषों की तुलना में महिलाओं का शरीर काफी कमजोर होता है। अक्सर महिलाएं किसी न किसी तरह की छोटी या बड़ी बीमारियों से ग्रसित रहती हैं। पत्नी ज्यादातर मौको पर अपनी बीमारी के बारे में पति को नहीं बताती हैं। इसके पीछे का कारण यह होता है कि पत्नी, पति की परेशानियों को बढ़ाना नहीं चाहती हैं। 

भेद को छिपाना-

अक्सर परिवार में कई तरह की बातें होती रहती हैं जिनमें से कुछ गंभीर तो कुछ हल्की बातें होती हैं। जब पति पत्नी से किसी बात को अन्य व्यक्तियों के सामने बताने से मना करते हैं तो पत्नियां ऐसे भेद अपने नजदीकी लोगों के बीच शेयर कर देती हैं। लेकिन जब पति इस बारे में पूछते हैं कि अमुक बातों का किसी से कही तो नहीं तो इसके जवाब में पत्नियां मना कर देती हैं।