बालोद, छत्तीसगढ़। बालोद जिले के सिवनी में बच्ची को सिगरेट से दागने की घटना सामने आने पर डीजीपी डीएम अवस्थी कड़ी प्रतिक्रिया दी है।डीजीपी ने कहा है कि पुलिसकर्मियों के इस प्रकार का कृत्य अक्षम्य है। ऐसे आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों की पुलिस विभाग में कोई जगह नहीं है।

डीएम अवस्थी ने आरोपी पुलिसकर्मी को सेवा से अलग करने के निर्देश जारी कर दिए हैं, साथ ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

बता दें बालोद में पदस्थ आरक्षक अविनाश राय ने एक डेढ़ साल की मासूम को 50 बार सिगरेट से दाग दिया। जानकारी के मुताबिक पुलिसकर्मी मकान मालिक से उधार के पैसे वसूलने गया था।

आरक्षक अविनाश राय नशे में धुत था, इस दौरान उसने डेढ़ साल की मासूम को कई बार सिगरेट से दागा। मासूम बच्ची की मां ने पुलिस थाना बालोद में आरोपी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

आरक्षक अविनाश राय का हाल ही में बालोद से दुर्ग रक्षित केंद्र ट्रांसफर हुआ है। आरक्षक ग्राम सिवनी में किराए के मकान में रह रहा था ।

मामले में संज्ञान लेते हुए छत्तीसगढ़ के डीजीपी डी एम अवस्थी ने आरोपी आरक्षक के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार करने के निर्देश दिए थे। डीजीपी डी एम अवस्थी ने इस मामले में आरोपी आरक्षक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात कही थी।