बडी खबर : रायपुर जेल में रक्षाबंधन पर कोरोना का ग्रहण : इस बार भी बहनें अपने कैदी भाइयों को नहीं बांध सकेंगी राखी, राखियां डालने बाहर लगाए गए राखी बाक्स…

336

रायपुर. कोरोना संक्रमण के चलते इस बार भी छत्तीसगढ़ के जेलों में रक्षाबंधन का पर्व नहीं मनाया जाएगा. भाइयों तक राखियां पहुंचाने जेलों के बाहर बाक्स लगाए गए हैं, जहां से राखियों को सैनिटाइज कर कैदी भाइयों तक पहुंचाने और सुरक्षा के लिहाज से बंदियों को विडियो कॉलिंग से परिजनों से बात कराने सुविधा उपलब्ध करने के निर्देश दिए गए हैं.कोरोना संक्रमण को देखते हुए जेल मुख्यालय ने पिछले दो साल की तरह इस बार भी कैदी भाइयों के लिए रक्षाबंधन पर्व का आयोजन नहीं करने का फैसला लिया है. बहनों के लिए जेल प्रबंधन ने परिसर के बाहर बाक्स लगा दिया है, जहां लिफाफों में अपने भाइयों के लिए राखी रख सकेंगे.जेल प्रशासन ने रक्षाबंधन के अवसर पर आयोजित होने वाले राखी बांधने के कार्यक्रम को इस साल फिर से निरस्त कर दिया है. यह तीसरा साल होगा, जब जेल परिसर रक्षाबंधन पर्व के दिन सूना रहेगा. जेल परिसर में नई व्यवस्था के तहत अलग-अलग बाक्स रखे जाएंगे. इसमें कैदियों की बहनें अपने भाइयों के नाम-पता लिखकर राखी बाक्स डालेंगी. उन्हें पूरी तरह सैनिटाइज कर बंदियों तक पहुंचाया जाएगा.