Treatments of lotus dental clinic birgaon

Sukma Rape News: छत्‍तीसगढ़ के सुकमा जिले के आदिवासी छात्रा के साथ दुष्‍कर्म के आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सुकमा। Sukma Rape News: छत्‍तीसगढ़ के सुकमा (Sukma) जिले के आदिवासी छात्रा के साथ दुष्‍कर्म के आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। आदिवासी छात्रा के साथ दुष्‍कर्म का आरोपित स्‍कूल की महिला चपरासी का पति निकला। सुकमा पुलिस अधीक्षक ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। इस मामले में पुलिस ने आश्रम अधीक्षिका हिना खान को भी गिरफ्तार कर लिया है। बतादें कि मामला प्रकाश में आने के बाद मंत्री कवासी लखमा के निर्देश पर आश्रम अधीक्षिका हिना खान व सह अधीक्षिका सविता वर्मा को निलंबित कर दिया गया था।

पोटाकेबिन छात्रावास में आधी रात अज्ञात ने किया दुष्‍कर्म

बच्‍चों के लिए शिक्षा के मंदिर पोटाकेबिन में शनिवार की रात अधर्म हो गया, जब पहली कक्षा की छात्रा से किसी अज्ञात आरोपित ने घुसकर दुष्कर्म किया। पुलिस के अनुसार एर्राबोर थाना क्षेत्र के एक 500 सीटर आवासीय छात्रावास पोटाकेबिन में पहली कक्षा की छह वर्षीय छात्रा सो रही थी, तब रात करीब 12 बजे अज्ञात आरोपित पोटाकेबिन में घुसा और सोती हुई मासूम को कंधे में उठाकर बरामदे में ले जाकर उससे दुष्कर्म किया। पोटाकेबिन की छात्राओं ने पुलिस को बताया कि रात में पीड़िता की चीखने-चिल्लाने की आवाज सुनकर वे सभी उठ गई।

छात्राओं ने अधीक्षिका को दी घटना की जानकारी

उन्होंने आरोपित को दूर से भागते हुए देखा, पर अंधेरा होने से कुछ भी साफ दिखाई नहीं दिया। पीड़िता उस समय उन्हें राेते हुए मिली। छात्राओं ने पोटाकेबिन में अधीक्षिका के आवास पहुंचकर उन्हें उठाया और घटना की जानकारी दी। तब पीड़िता ने घटना के बारे में कुछ भी नहीं बताया था।

सोमवार को स्वजन पोटाकेबिन पहुंचे तो उसने दर्द होने की बात बताई। इसके बाद स्वजन उसे डाक्टर के पास ले गए, जहां डाक्टर ने पीड़िता की प्राथिमक जांच की है। जांच में दो दिन की देरी होने से अब इसकी फोरेंसिक जांच भी की जा रही है। डाक्टर की जांच के आधार पर सोमवार की देर शाम अधीक्षिका को लेकर स्वजन ने अज्ञात आरोपित के विरुद्ध एफआइआर दर्ज कराया है।

मामले की जांच के लिए आठ सदस्यीय टीम का गठित

घटना की जांच के लिए विशेष टीम गठित घटना की गंभीरता को देखते हुए एसपी किरण चव्हाण ने प्रकरण की विवेचना के लिए एएसपी गौरव मंडल के नेतृत्व में आठ सदस्यीय टीम का गठन किया है। मंगलवार को टीम ने पोटाकेबिन पहुंचकर कई घंटों तक पूछताछ की। इस दौरान आश्रम में किसी को भी प्रवेश करने पर रोक लगा दिया गया है।

इधर घटना की जानकारी मिलने के बाद मंगलवार को आश्रम में पढ़ रही बच्चियों को लेने पहुंचे है। नईदुनिया से चर्चा में भाजपा व सीपीआई के नेताओं ने कहा, दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। ताकि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो।

मामले की जांच के लिए आठ सदस्यीय टीम का गठित

घटना की जांच के लिए विशेष टीम गठित घटना की गंभीरता को देखते हुए एसपी किरण चव्हाण ने प्रकरण की विवेचना के लिए एएसपी गौरव मंडल के नेतृत्व में आठ सदस्यीय टीम का गठन किया है। मंगलवार को टीम ने पोटाकेबिन पहुंचकर कई घंटों तक पूछताछ की। इस दौरान आश्रम में किसी को भी प्रवेश करने पर रोक लगा दिया गया है।

इधर घटना की जानकारी मिलने के बाद मंगलवार को आश्रम में पढ़ रही बच्चियों को लेने पहुंचे है। नईदुनिया से चर्चा में भाजपा व सीपीआई के नेताओं ने कहा, दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए। ताकि ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो।