Treatments of lotus dental clinic birgaon

नहाते समय तेज बहाव में फंसे थे, 3 घंटे तक चले रेस्क्यू के बाद मिले शव।

दुर्ग जिले के महमरा एनीकट में डूबने दो इंजीनियरिंग छात्रों की मौत हो गई। दोनों छात्र अपने अन्य दोस्तों के साथ महमरा एनीकट घूमने गए थे। एनीकट में नहाने के दौरान अचानक पानी के तेज बहाव में आ गए। और देखते ही देखते गायब हो गए। वहां मौजूद अन्य स्टूडेंट्स ने जब शोर मचाया तो स्थानीय गोताखोर की टीम मौके पर पहुंची। करीब 3 घंटे की मशक्कत के बाद दोनों शव को बाहर निकाला गया।

पूरी घटना पुलगांव थाना के अंजोरा पुलिस चौकी क्षेत्र की है। अंजोरा पुलिस के मुताबिक, मंगलवार को भिलाई के शांति नगर सुपेला निवासी हर्षित कुमार और महासमुंद निवासी सुनील साहू अपने बैच के अन्य दोस्तों के साथ महमरा एनीकट घूमने गए थे। इस बीच नहाने के दौरान सुनील और हर्षित की डूबने से मौत हो गई है।

परिजनों को सौंपा गया गया शव
मौके पर पहुंची अंजोरा पुलिस ने दोनों शवों का पंचनामा करके जिला अस्पताल भेज दिया था। जहां पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। हर्षित फर्स्ट ईयर और सुनील सेकंड ईयर का छात्र था। दोनों के बीच काफी अच्छी दोस्ती थी। घटना के बाद से दोनों परिवार में मातम पसरा है

महमरा एनीकट बना मौत का एनीकट
महमरा एनीकट मौत का एनीकट बनता जा रहा है। यहां का दृश्य हरियाली और नदी के चौड़े पाट के चलते काफी मनोरम दिखता है। इससे यहां दुर्ग ही नहीं दूसरे जिलों के लोग भी आते हैं। हालत यह है कि पिछले कुछ सालों के रिकार्ड को देखा जाए तो यहां हर साल पानी में डूबने कई लोगों की मौत हो चुकी है। आंकड़ों की बात करें तो पिछले 4-5 सालों में यहां लगभग 40 से अधिक लोगों की मौतें हो चुकी है।