Treatments of lotus dental clinic birgaon

रायपुर में तेज रफ्तार कार ने बच्चे को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी भीषण थी कि बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद कार चालक लक्ष्मी नारायण नागरची को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहां मौजूद कुछ लोगों ने बच्चे को लहुलुहान हालत में अस्पताल पहुंचाया, लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। हादसा टिकरापारा थाना क्षेत्र का है। घटना का CCTV फुटेज भी सामने आया है।

जानकारी के मुताबिक, टिकरापारा सुदामा नगर का रहने वाला प्रियांशु निर्मलकर (13 वर्ष) अखबार बांटने का काम करता है। गुरुवार सुबह साढ़े 6 बजे वो अपने काम से निकला था। अपनी साइकिल से वो संजय नगर इलाके में सड़क पार करने के लिए खड़ा था। वो साहू कॉम्प्लेक्स जा रहा था, तभी दूसरी तरफ से तेज रफ्तार कार ने उसे टक्कर मार दी।

टक्कर इतनी जोरदार थी कि बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई।

टक्कर इतनी जोरदार थी कि बच्चे की मौके पर ही मौत हो गई।

कार की टक्कर से हवा में उछला

वीडियो में दिख रहा है कि कार दूसरी तरफ से तेज रफ्तार में आ रही थी। उसने प्रियांशु को जोरदार टक्कर मारी। जिससे वो साइकिल समेत हवा में उछल गया और सड़क पर दूर जाकर गिर गया। हादसे में उसकी साइकिल चकनाचूर हो गई।

यह भी पढ़ें : छत्तीसगढ़ में बुलडोजर पॉलिटिक्स :​​​​​​​​​​​​​​ रायपुर, बिलासपुर समेत कई जिलों में एक्शन, बृजमोहन ने लोगों से पूछा – रफ्तार ठीक है ना?

हादसे के बाद कार चालक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

हादसे के बाद कार चालक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

आसपास मौजूद लोगों ने की मदद

एक्सीडेंट के बाद मौके पर भीड़ लग गयी। वहां से गुजर रहे लोगों ने प्रियांशु को उठाने की कोशिश की। राहगीरों की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्चे को उठाकर अस्पताल पहुंचाया। शुरुआती जांच के बाद डॉक्टरों ने बच्चे को मृत घोषित कर दिया।

हादसे के बाद वहां से गुजर रहे लोगों ने प्रियांशु को उठाया।

हादसे के बाद वहां से गुजर रहे लोगों ने प्रियांशु को उठाया।

यह भी पढ़ें : Crime : रायपुर डीडी नगर में युवती से 7 लाख की ठगी ; सरकारी नौकरी लगवाने का दिया झांसा ; मंत्रालय के अफसरों से बताई जान-पहचान

अपनी पढ़ाई का खर्चा खुद उठाता था प्रियांशु

जानकारी के मुताबिक, प्रियांशु अपने घर के पास ही एक स्कूल में पढ़ता था। वो अपनी पढ़ाई का खर्चा उठाने के लिए अखबार बांटने का काम भी कर रहा था। घटना के वक्त भी वो सुबह लोगों के घरों में पेपर बांटने निकला था। घटना के बाद उसके परिजन का रो-रोकर बुरा हाल है।