Treatments of lotus dental clinic birgaon

रायपुर नगर निगम की 11 अगस्त को स्थगित सामान्य सभा की कार्रवाई गुरुवार सुबह 11 बजे से प्रारंभ होगी। सामान्य सभा में 32 विषयों पर चर्चा होगी।

HighLights

  • नगर निगम की सामान्य सभा की कार्रवाई आज
  • सामान्य सभा में कई इन पर भी लग सकती है मुहर
  • निगम की सामान्य सभा में 32 विषयों पर होगी चर्चा

रायपुर नगर निगम की 11 अगस्त को स्थगित सामान्य सभा की कार्रवाई गुरुवार सुबह 11 बजे से प्रारंभ होगी। सामान्य सभा में 32 विषयों पर चर्चा होगी। सामान्य सभा में ओपन प्लाट पर लिए जा रहे संपत्तिकर में रियायत, 260 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट्स बांड जारी करने, संपत्ति समेत अन्य करों की चक्रवृद्धि ब्याज के स्थान पर साधारण दर पर माहवार अधिभार वसूली समेत कई अन्य विकास कार्यों पर मुहर लगेगी।

10 ई-बसें खरीदने 20 करोड़ की वित्तीय स्वीकृति एवं निविदा बुलवाने अनुमति, रायपुर अर्बन क्षेत्र के लिए वायु गुणवत्ता सुधार वाले उपायों के संबंध में वर्ष-2022-23 के लिए तैयार माइक्रो एक्शन प्लान, 20 एलएलडी टर्सरी ट्रीटमेंट प्लांट निर्माण कार्य को निमोरा एसटीपी के स्थान पर चंदनीडीही एसटीपी में स्थान परिवर्तन, 75 एलएलडी चंदनीडीही एसटीपी

से उपचारित जल में से 18 एमएलडी जल ताप विद्युत केंद्र भिलाई को औद्योगिक उपयोग के लिए प्रदान करने, नगरीय ठोस अपशिष्ट के घर-घर से संग्रहण के लिए उपभोक्ता प्रभार लिए जाने के लिए राज्य पत्र में प्रकाशित अधिसूचना में युक्तियुक्तकरण करने, इंडोर स्टेडियम के आवंटन में छूट प्रदान करने, नगर निकायों में स्थित उद्योग विभाग द्वारा विकसित औद्योगिक क्षेत्रों में औद्योगिक

इकाइयों को संपत्तिकर से भार मुक्त करने, आउटडोर स्टेडियम के पुराने रायपुर स्मार्ट सिटी के कार्यालय भवन वाले भाग को सांई को आबंटित करने आदि विकास कार्यों पर चर्चा के बाद मुहर लगने की उम्मीद है।

एक घंटे का प्रश्नकाल

नगर निगम के सचिव विनोद पाण्डेय ने बताया कि निगम अध्यक्ष ( स्पीकर) प्रमोद दुबे द्वारा 11 अगस्त को सामान्य सभा की कार्रवाई स्थगित कर दी गई थी। इसकी सूचना समस्त पार्षद, मनोनीत पार्षद, पदेन पार्षद को सदन में ही दे दी गई थी। गुरुवार को मुख्यालय में चतुर्थ तल स्थित सामान्य सभा सभागार में प्रारंभ होगी।

उन्होंने बताया कि सभापति प्रमोद दुबे की अध्यक्षता में आहुत सामान्य सभा की बैठक के प्रारंभ में नियमानुसार निर्धारित एक घंटे की अवधि में प्रश्नकाल की कार्रवाई होगी। इसके पश्चात एमआइसी द्वारा बैठकों में लिए गए संकल्पों पर शासकीय नियमानुसार निर्धारित एजेंड़ों पर क्रमवार चर्चा एवं विचार- विमर्श किया जाएगा।