Treatments of lotus dental clinic birgaon

पीड़ित दंपती ने बताया कि उनके यहां छोटा बच्चा हुआ था, इसी का बहाना लेकर 4 नकली किन्नर उनके घर घुस आए। बच्चा होने पर सोने के कंगन की मांग करने लगे। आक्रमक होकर परिवार पर दबाव डालने लगे।

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर की रावतपुरा कालोनी के एक घर में घूसकर नकली किन्नरों द्वारा लूट की वारदात को अंजाम देने के मामले में टिकरापारा थाना पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई है। 15 अगस्त को हुई लूट की शिकायत पर थाना पुलिस ने अब तक FIR नहीं की है, जबकि इस मामले में चार कथित किन्नरों ने एक घर में घुसकर न सिर्फ 12 मिनट तक परिवार को आतंकित किया बल्कि उनसे 20 हजार रुपए लूटकर फरार भी हो गए।

सीसीटीवी आया सामने

नकली किन्नरों के घर में घुसने और निकलने का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है जिसमें एक किन्नर सड़क पर निगरानी करते हुए दिख रहा है। पीड़ित दंपती ने बताया कि उनके यहां छोटा बच्चा हुआ था, इसी का बहाना लेकर 4 नकली किन्नर उनके घर घुस आए। बच्चा होने पर सोने के कंगन की मांग करने लगे।

आक्रमक होकर परिवार पर दबाव डालने लगे। दंपती ने डर कर उन्हें पहले 1 हजार फिर 3 हजार रुपए देने की पेशकश की तो वो अश्लील हरकत करने लगे। इस बीच पति ने जेब से पर्स निकाला और पैसे बढ़ाकर देने की बात कही तो मौका पाते ही किन्नर ने पर्स झपट लिया और महिला से मारपीट कर भाग निकले।

मामले में टिकरापारा थाना प्रभारी का कहना है कि अब तक शिकायत नहीं मिली है जबकि पीड़ित परिवार साफ कह रहा है कि उसने शिकायत की थी और सोचा कि एफआईआर हुई है लेकिन उन्हें बदले में इसकी प्रतिलिपी नहीं दी गई। मीडिया में मामला सामने आने के बाद थाना प्रभारी जांच की बात कह रहे हैं।

इसलिए पहुंचे घर के अंदर

पीड़ित साहू परिवार ने बताया कि उनके पड़ोसी के घर में बच्चा हुआ था। जिसकी सूचना मिलने के बाद किन्नर वहां पहुंचे और पैसे की मांग की। इसके बाद वहां से उनको पता चला कि पीड़ित के घर भी बच्चा हुआ है। जिसके बाद वह वहां पहुंचे और पूरी वारदात को अंजाम दिया।