Treatments of lotus dental clinic birgaon

बस्तर में कर्मा परिवार और मंत्री लखमा में मतभेद:दंतेश्वरी सरोवर के सामने रेलिंग लगाने को तूलिका ने गलत बताया, कवासी बोले- जनहित का काम

जिला पंचायत अध्यक्ष तूलिका कर्मा और आबकारी मंत्री कवासी लखमा का एक ही मुद्दे पर अलग-अलग बयान आया है।

छत्तीसगढ़ के आबकारी मंत्री कवासी लखमा और कांग्रेस के दिवंगत नेता महेंद्र कर्मा के परिवार के बीच इन दिनों सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। हाल ही में महेंद्र कर्मा के बेटे छविंद्र कर्मा ने झीरम मामले पर कवासी लखमा का नार्को टेस्ट करवाने की बात कही थी। उनके इस बयान के बाद इनके बीच अंतर्कलह होने का मामला खुलकर सामने आया था। अब महेंद्र कर्मा की बेटी तूलिका कर्मा और कवासी लखमा एक ही मुद्दे पर एक मत नहीं है।

दरअसल, दंतेवाड़ा में दंतेश्वरी सरोवर के सामने पाथवे रेलिंग का काम चल रहा है। इस काम ने अब सियासी तूल पकड़ लिया है। दंतेवाड़ा जिला पंचायत अध्यक्ष तूलिका कर्मा ने इस काम को गलत बताया है। उन्होंने कहा कि, प्रशासन ने टेंपल कमेटी से सलाह मशविरा करने की जरूरत भी नहीं समझी। जबकि टेंपल कमेटी का गठन राज्य का धर्मस्व विभाग करता है। मां दंतेश्वरी मंदिर से जुड़े स्थलों और विभिन्न पारंपरिक जगहों में फेरबदल टेंपल कमेटी के सदस्यों, पुजारी, मांझी-मुखिया की जानकारी और उनकी सहमति के बिना करना सरासर गलत है।

Raipur public school Birgaon ADMISSION OPEN 23-24
तूलिका कर्मा ने प्रशासन को अल्टीमेटम दिया है।
तूलिका कर्मा ने प्रशासन को अल्टीमेटम दिया है।

जिन्हें यहां के पारंपरिक रीति-रिवाज की जानकारी नहीं, कम से कम उन्हें इस धार्मिक स्थल से छेड़छाड़ नहीं करनी चाहिए। इस तरह की तानाशाही नहीं चलेगी। तूलिका ने प्रशासन को चेतावनी देते कहा कि, इस रेलिंग को हटाया जाए। यदि ऐसा नहीं होता है तो हम चक्का जाम करेंगे। उन्होंने इसके लिए प्रशासन को कुछ दिनों का अल्टीमेटम भी दिया है।

इस तरह की बन रही लोहे की रेलिंग।
इस तरह की बन रही लोहे की रेलिंग।

आबकारी मंत्री ने दिया यह बयान

इस मामले के तूल पकड़ने और महेंद्र कर्मा की बेटी तूलिका कर्मा के हस्तक्षेप के बाद अब कवासी लखमा ने भी इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। प्रदेश के आबकारी और दंतेवाड़ा जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने इस काम को जनता के हित में होना बताया है। उन्होंने कहा कि जो काम जनता के लिए होगा, जनता के हित में होगा वो काम किया जाएगा। कवासी लखमा से जब पूछा गया कि, इस काम का जनता भी विरोध कर रही है तो उन्होंने कहा कि, पूरा काम जनता से पूछकर नहीं किया जाता है।