Treatments of lotus dental clinic birgaon

प्रार्थी ने फोन-पे के माध्यम से अलग-अलग किश्त में कुल 77 लाख 23 हजार रुपये जमा कर दिया। इसके बाद न कारोबारी को पैसे मिलने बंद हो गए। प्रार्थी ने आरोपित को फोन भी किया, कई बार तो वह बहाने करता रहा इसके बाद फोन उठाना बंद कर दिया।

शेयर बाजार मैक्स और इक्वीटी में पैसा लगाने के नाम पर कारोबारी से 77 लाख 23 हजार की ठगी का मामला सामने आया है। ठग ने शेयर मार्केट में मुनाफा कमाने के नाम पर लाखों रुपये की ठगी की है। विधानसभा थाना पुलिस ने आरोपित के लिखाफ धाेखाधड़ी का अपराध दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

विधानसभा थाने में अविनाश कैपिटल होम्स सड्डू निवासी अतुल बसंल ने रिपोर्ट दर्ज करवाई है। प्रार्थी के अनुसार अज्ञात फोन धारक ने बातचीत में शेयर मार्केट में पैसे निवेश करवाया। इसके बाद अलग-अलग किश्तों में रकम ली गई। हालांकि भरोसा जीतने के लिए कई बार रकम वापस भी आई। इसके बाद दोगुना और तीन गुना कमाने का झांसा दिया।

प्रार्थी ने फोन-पे के माध्यम से अलग-अलग किश्त में कुल 77 लाख 23 हजार रुपये जमा कर दिया। इसके बाद न कारोबारी को पैसे मिलने बंद हो गए। प्रार्थी ने आरोपित को फोन भी किया, कई बार तो वह बहाने करता रहा इसके बाद फोन उठाना बंद कर दिया।
चेन्नई, बेंगलुरु और दिल्ली का गिरोह कर रहा ठगी :
पुलिस अफसरों ने बताया कि शेयर मार्केट के नाम पर चेन्नई, बेंगलुरु और दिल्ली का गिरोह ठगी कर रहा है। शेयर मार्केट और क्रिप्टो में निवेश का झांसा दे रहे है। उन्होंने होटल में बुलाकर प्रेजेंटेशन दिया जा रहा है।
लोग झांसे में आकर जीवनभर की कमाई जमा कर रहे हैं। पुलिस ने बेंगलुरु, चेन्नई गिरोह के कुछ सदस्यों को गिरफ्तार किया था जिसके बाद इस बात का राजफाश हुआ। पुलिस को शक है कि विधानसभा ठगी में यही गिरोह शामिल हो सकता हैं।
इन तरीकों से हो रही ठगी
– निवेश के नाम पर
– आधार कार्ड बैंक से जोड़ने के नाम पर
– लाटरी के नाम पर
– इनाम की राशि के नाम पर
– एटीएम कार्ड की वैलिडिटी खत्म होने के नाम पर
– आनलाइन खरीदी में भारी छूट के नाम पर
– फेक ईमेल भेजकर ठगी
– आनलाइन ट्रेडिंग के नाम पर ठगी
– आनलाइन मोबाइल टावर बिजनेस के नाम पर ठगी
– सिम कार्ड की वैधता खत्म होने के नाम पर ठगी
– पालिशी रिनूअल कराने के नाम पर ठगी
– जाब आफर के नाम पर ठगी
– आर्मीमैन बनकर ठगी
– रिश्तेदार बनकर ठग
– सैक्सटाशन के नाम पर ठगी
– मदद के नाम पर ठगी
– क्रेडिट कार्ड बंद करने और शुरु करने के नाम पर ठगी