Treatments of lotus dental clinic birgaon

सब्जियों के बाद अब मसालों ने भी रसोई का जायका बिगाड़ दिया है। जीरा ने तो अब तक के सारे रिकार्ड तोड़ दिए है।

सब्जियों के बाद अब मसालों ने भी रसोई का जायका बिगाड़ दिया है। यह देखा जा रहा है कि चार माह में ही मसालों की कीमतों में 40 फीसद से लेकर दोगुनी बढ़ोतरी हो गई है। जीरा ने तो अब तक के सारे रिकार्ड तोड़ दिए है और चार माह में ही 300 रुपये किलो से बढ़कर 700 रुपये किलो पहुंच गया है। कारोबारियों का कहना है कि आने वाले दिनों में इनकी कीमतों में और बढ़ोतरी हो सकती है।

जीरा 700 रुपये किलो, तो काली मिर्च 800 रुपये किलो तक पहुंचा

बाजार के जानकारों का कहना है कि मौसम की अनियमित स्थिति के चलते फसलों के लगातार गिरते उत्पादन के कारण मसालों की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है। विशेषकर जीरा की कीमतों में राहत की उम्मीद है। जीरा सालभर में एक बार उपजने वाली फसल है और इस बार इसका उत्पादन काफी प्रभावित हुआ है। इसके साथ ही बेमौसम बारिश व ओलावृष्टि के चलते हल्दी की बुआई काफी कम हुई है, साथ ही धनिया का भी सफाया हो गया है।

कीमतों में बढ़ोतरी के चलते मसालों की ग्राहकी भी थोड़ी कम हुई है। मसाले तो सब्जियों का जायका बढ़ाने के साथ ही बहुत सी बीमारियों में घरेलू उपचार के रूप में भी उपयोग में लाइ जाती है। कारोबारी मनीष राठौड़ ने बताया कि उत्पादन में आइ कमी के चलते मसालों की कीमतों में एकाएक तेजी आइ है। खड़े मसालों में तेजी के चलते ब्रांडेड कंपनियों ने भी अपनी कीमतों में बढ़ोतरी कर दी है।

मसाले 1 अप्रैल 2023(रुपये प्रति किलो) 1 अगस्त 2023(रुपये प्रति किलो)

जीरा 300 700

काली मिर्च 500-600 650-800

हल्दी 100-120 150-200

लाल मिर्च 150-180 250-350