Update Rahul : 4 दिन बाद अब शीघ्र बाहर आयेगा राहुल ; जांजगीर से बिलासपुर तक बनाया जा रहा ग्रीन कॉरिडोर ; चिकित्सकीय सुविधाओं से लैस एम्बुलेंस और डाक्टर तैनात …

1018

जांजगीर-चांपा. राहुल के रेस्क्यू को लेकर इस वक्त बड़ी खबर सामने आ रही है. बताया जा रहा है कि राहुल को किसी भी वक्त बाहर निकाला जा सकता है. जिसके बाद सीएम भूपेश बघेल के निर्देश पर उसे अच्छे अस्पताल ले जाने के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाया जा रहा है.

सावधान : लिफ्ट का दरवाजा बंद होने से पहले ही चलने लगा लिफ्ट ; लिफ्ट और दीवार के बीच फंसा महिला का दोनो पैर ; गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती ; पैर काटने की आ सकती है नौबत …

मौके पर मेडिकल स्टाफ पूरी तैयारी के साथ अलर्ट मोड पर है. ऑक्सीजन, मास्क के साथ स्ट्रेचर की है व्यवस्था कर ली गई है. एम्बुलेंस भी तैयार है. मेडिकल स्टाफ की कोशिश होगी कि जब राहुल को बाहर निकाला जाएगा तो स्वास्थ्य जांच करते हुए एम्बुलेंस में ही सारी चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराते हुए उसे अपोलो अस्पताल बिलासपुर तक सुरक्षित पहुंचाया जाए.

अंतिम चरण में ऑपरेशन राहुल  –           

बता दें कि राहुल को बोरवेल में गिरे चार दिन हो गए हैं. घटना की जानकरी मिलते ही राहुल का रेस्क्यू शुरू कर दिया गया था. लेकिन तमाम कोशिशें नाकाम हो रही थीं. जिसके बाद शासन-प्रशासन ने राहुल को बचाने में अपना पूरा जोर लगा दिया.

लड़की के लिए दोस्त का मर्डर : गर्लफ्रेंड से बात करता था दोस्त ; पसंद नहीं आया तो चाकू से मार डाला

राहुल को बचाने के लिए रेस्क्यू टीम ने बोरवेल के समांतर सुरंग बनानी शुरू की. इसमें भी चट्टान बाधा बनी. जिसे टीम ने हटाया. अब अंतत: माना जा रहा है कि जल्द ही राहुल बोरवेल से बाहर आ सकता है.

राहुल के बहुत करीब है टीम : कलेक्टर

राहुल को बाहर निकालने की जद्दोजहद में रेस्क्यय टीम लगी हुई है. सुरंग में चट्टान को काटने की कोशिशें लगातार जारी है. कलेक्टर जितेंद्र शुक्ला ने सुरंग का मुआयना किया. बाहर निकलकर उन्होंने कहा कि पत्थर तोड़ने में कठिनाई आ रही है. छोटी सी सुरंग में पत्थर काटने में बहुत परेशानी हो रही है. राहुल के मूवमेंट को देखा गया है. हमारी टीम बहुत करीब है और राहुल रेस्पॉन्स कर रहा है.