Raipur Crime : 2 करोड़ का गांजा सहित लाखों का ड्रग्स जलाया गया ; रायपुर के हर मोहल्ले से पकड़े गए बदमाश ; देखें पूरी जानकारी

606
  • City news Raipur
  • Crime news

पिछले कुछ महीनों में रायपुर और धमतरी के अलग-अलग थानों में जब्त किया गया नशे का सामान पुलिस ने भट्ठे में झोंक दिया। दरअसल अक्सर पुलिस ऐसा करती है। अलग-अलग कार्रवाईयों में तस्करी के दौरान मिली नशीली चीजों को जलाकर इसी तरह से नष्ट कर दिया जाता है ऐसी कार्रवाई रायपुर में की गई।

शहर के सिलतरा स्थित एक औद्योगिक प्लांट के भट्ठे में पुलिस की कार्रवाई में जब्त किया नशीला सामान डाल दिया गया। ऐसा इस वजह से किया जाता है क्योंकि ऐसे प्लांट की भट्‌ठी का तापमान सबसे अधिक होता है। इनमें जली चीजें पूरी तरह से नष्ट हो जाती हैं, इसलिए पुलिस अपनी कार्रवाई में इस तरह के भट्टे का इस्तेमाल करती है।

कार्रवाई के दौरान अधिकारी।

दो करोड़ का तो सिर्फ गांजा ही था

रायपुर पुलिस की इस कार्रवाई में 137 मामलों में जब्त हुआ 2477 किलो गांजा नष्ट किया गया है। इस गांजे की कीमत लगभग दो करोड़ बताई गई है। इसके अलावा 2 मामलों में 6.5 किलो के गांजा पौधे, डोडा के 6 मामलों में 65 किलो डोडा, अफीम के मामले में 500 ग्राम अफीम, 543 नग नशीला सिरप, 2396 नशीली टेबलेट, 116 ग्राम ब्राउन शुगर को भट्टे में डालकर जला दिया गया।

यह भी पढ़ें – Corona Breaking : छत्तीसगढ़ में कोरोना की वापसी ; रायपुर बना नया हॉट स्पॉट ; एक दिन में 18 केस ; 12 जिलों में 3667 सैंपल की जांच

इस कार्रवाई के दौरान पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। रायपुर रेंज के आईजी ओपी पाल, ड्रग डिस्पोजल समिति के अफसर भी इस मौके पर मौजूद थे, रायपुर के एसएसपी प्रशांत अग्रवाल और धमतरी के एसपी इस कार्रवाई के दौरान मौजूद थे।

पुलिस का धरपकड़ अभियान भी जारी है।

पुलिस का धरपकड़ अभियान भी जारी 

हर गली से मिल रहे हथियार

रायपुर की पुलिस अलग-अलग इलाकों में नशेड़ियों और पुराने बदमाशों की तलाशी ले रही है। एंटी क्राइम एंड साइबर यूनिट को रायपुर के लगभग हर मोहल्ले में ऐसे बदमाश मिले हैं। पिछले 24 घंटे में पुलिस ने 46 आरोपियों को पकड़ा। इसमें 21 आरोपियों के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत कार्रवाई की गई किसी के पास चाकू तो किसी के पास खंजर मिला है। 25 आरोपियों को प्रतिबंधात्मक धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है।

यह भी पढ़ें – डेढ़ साल में 10 लाख नौकरियां ;11 राज्यों में चुनाव से पहले मोदी सरकार का बड़ा दांव