राजधानी में अग्रवाल समाज दो टुकड़ों में बटी: पुराने अध्यक्ष समेत 2000 वरिष्ठ सदस्यों का नाम नहीं; नाराज होकर बनाया ‘नव निर्माण अग्रवाल समाज’…

432

करीब 59 साल पुराने छत्तीसगढ़ के अग्रवाल समाज के संगठन में एक बड़ा विवाद गहरा रहा है। आलम यह है कि मौजूदा कार्यकारिणी से अलग होकर वरिष्ठ सदस्यों ने अपना नया संगठन बना लिया है। ऐसा पहली बार हुआ है, अब तक अग्रवाल समाज के तमाम छोटे-बड़े संगठन अग्रवाल सभा के बैनर तले ही अपनी सामाजिक गतिविधियां करते थे। मगर अब पहली बार नव निर्माण अग्रवाल समाज के नाम से संगठन तैयार कर अग्रवाल सभा के ही पुराने सदस्यों ने खुद को अलग किया है।

यह सारा विवाद अग्रवाल सभा में होने वाले पदाधिकारियों के चुनाव से संबंधित है । दरअसल दावा किया जा रहा है कि अग्रवाल सभा की सदस्यता सूची गलत तरीके से तैयार की गई। करीब 2000 वरिष्ठ लोगों का नाम इसमें शामिल ही नहीं हैं। यहां तक की 6 सालों तक संस्था के अध्यक्ष रहे सुरेश गोयल तक का नाम संरक्षक मंडल से गायब है। सदस्यता सूची में सुरेश गोयल का नाम भी नहीं है जबकि उन्होंने सदस्यता का फॉर्म भी भरा था।

सदस्य सदस्यता सूची में गड़बड़ी करने और सुरेश गोयल का नाम लिस्ट से हटाने के आरोप अग्रवाल सभा के महामंत्री विजय कुमार अग्रवाल पर लग रहे हैं। सुरेश गोयल ने रायपुर में प्रेस कॉन्फ्रेंस लेकर मीडिया को यह जानकारी दी कि उन्होंने अग्रवाल सभा के अध्यक्ष का चुनाव लड़ने के लिए नामांकन फॉर्म लिया तब चुनाव अधिकारी ने कह दिया कि आप संस्था के सदस्य ही नहीं है इसलिए आप नामांकन फॉर्म नहीं ले सकते इसके बाद इस बड़ी गड़बड़ी का खुलासा हुआ।

हाई कोर्ट पहुंच गया मामला
सदस्यता सूची में गड़बड़ी और संगठन के राजनीतिक इस्तेमाल के आरोपों के साथ अब यह पूरा मामला हाईकोर्ट पहुंच चुका है। सुरेश गोयल ने बताया कि जल्द ही इस मामले की सुनवाई भी होगी। कोर्ट का जो निर्णय होगा हमें मंजूर होगा। उन्होंने कहा कि मौजूदा कार्यकारिणी के लोग जानबूझकर उनका नाम सूची से हटा रहे हैं ताकि वह चुनाव में लड़ पाए।

पहली बार नया संगठन
सुरेश गोयल और उनके साथ अग्रवाल सभा से जुड़े पुराने सदस्यों ने अब एक नया संगठन बना लिया है । इसका नाम है नव निर्माण अग्रवाल समाज सुरेश गोयल का दावा है कि इस संगठन के जरिए सेवा और निर्माण के काम होंगे। उन्होंने कहा कि अग्रवाल सभा लंबे वक्त से राजनीतिक गतिविधियों में अधिक सक्रिय हो चुका था । सेवा के काम नहीं हो रहे थे। इस वजह से हम लोगों ने खुद को अलग किया है। हालांकि सुरेश गोयल यह भी कहते दिखे। कि वह अब भी खुद को अग्रवाल सभा का सदस्य मानते हैं उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले दिनों में नव निर्माण अग्रवाल समाज में अग्रवाल सभा के कई सदस्य जुड़ेंगे।

नया संगठन यह काम करेगा
सुरेश गोयल ने बताया कि अब नव निर्माण अग्रवाल समाज संगठन प्रदेश में जरूरतमंदों की मदद के काम करेगा। उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य राजनीति करना बिल्कुल नहीं है। हम कॉलेज, स्कूल निर्माण का काम करेंगे जिन मोहल्लों में जरूरत है वहां मोहल्ला क्लीनिक खुलेंगे और अग्रवाल समाज के मुख्य उद्देश्य सेवा के कार्य को आगे बढ़ाएंगे।