रायपुर में अनैतिक गतिविधियां चरम पर : गृह मंत्री के साथ ही मुख्यमंत्री बघेल ने भी अवैध मादक पदार्थ शराब-गांजा भांग आदि पर सख्ती से रोक लगाने दिये हिदायत का कोई असर नहीं ….

501

रायपुर, राजधानी रायपुर के आउटर में स्थित होटल, रेस्टोरेंट अनैतिक गतिविधियों का अड्डा बनते जा रहे हैंं, जहां देर रात इन इलाकों में युवक-युवतियों की संदिग्ध गतिविधियां इस ओर इंगित करती हैं। पुलिस की लाख कोशिश के बावजूद ये अनैतिक गतिविधियां लगातार जारी हैं। इसे रोकने में पुलिस को पसीना बहाना पड़ रहा है। रायपुर के वीआईपी रोड स्थित इलाकों में लगातार छापे पड़ रहे हैं एवं अवैध शराब भी बरामद हो रहे हैं, लेकिन अन्य गतिविधियां अभी भी इस इलाके में थम नहीं रहा है। ज्ञातव्य है कि दो माह पहले इसी एरिया के एक बड़े होटल में पुलिस ने छापा मारा था एवं दर्जन भर लड़कियों को गिरफ्तार किया था।

पिछले दिनों डीजीपी ने बैठक लेकर राजधानी में अवैध मादक पदार्थ शराब-गांजा भांग आदि पर सख्ती से रोक लगाने की हिदायत मातहत अमले को दी थी लेकिन इसका ज्यादा असर नहीं दिखाई दे रहा है। जबकि गृह मंत्री के साथ ही मुख्यमंत्री ने भी सख्त हिदायत दी थी।

सूत्रों के अनुसार दशहरा पर्व के बाद दिवाली के पहले राजधानी के बाहरी इलाकों में शराब -गांजा के साथ अनैतिक गतिविधियां शुरू हो गई है। इन इन तत्वों ने शहर के बाहरी इलाकों में स्थित होटल बार रेस्टोरेंट आदि स्थानों को ठिकाना बनाया है जहां शाम होते ही सुनसान हो जाता है एवं संदिग्ध लोगों की आवाजाही शुरू हो जाती है। नवा रायपुर एवं माना इलाके में इसकी शिकायत ज्यादा है। व्हीआईपी रोड पर भी देर रात तक युवक युवतियां संदिग्ध हालत में घूमते नजर आते है। व्हीआईपी रोड पर गत दिवस एक होटल के सामने नशे में धुत युवक- युवतियों में जमकर लात घुसे भी चले थे।

पुलिस ने पिछले महीने अभियान चलाया था लेकिन व्हीआईपी रोड इलाके में अवैध शराब के अलावा अन्य प्रकरण नहीं बन पाए थे। अवैध शराब के प्रकरणों से अंदाजा लगाया जा सकता है इन स्थानों पर सुरा-सुंदरी का खेल भी चल रहा है। पुलिस अफसर भी इससे इंकार नहीं करते, लेकिन इस तरह की शिकायत मिलने से इंकार करते है।

दो माह पहले 25 जुलाई को राजधानी रायपुर के लाभांडीह स्थित होटल हयात में देह व्यापार करते 11 महिलायें एवं 02 दलाल सहित कुल 13 लोगो को क्राइम ब्रांच और पुलिस ने रेड मारकर गिरफ्तार किया था। देह व्यापार में संलिप्त 11 महिलायें दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, मुम्बई, पंजाब सहित अन्य अलग-अलग राज्यों की निवासी थी।