कार्यकर्ता सम्मेलन में पूर्व मुखमंत्री डॉ. रमन सिंह ने किया संबोधन, भाजपा प्रत्याशी ब्रम्हानंद नेताम के पक्ष में की मतदान की अपील..

262

भानुप्रतापपुर….. छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. रमन सिंह ने भानुप्रतापुर पहुंचकर आगामी उपचुनाव के मद्देनजर भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन में हिस्सा लिया एवं चुनावी जनसभा को संबोधित किया।
इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के झूठे वादों एवं खोखले कार्यों को भी याद दिलाया। प्रदेश में बढ़ रहे अपराध के मामले और उसमे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल समेत अनेकों कांग्रेसी नेताओं की संलिप्तता ने स्वयं ही विपक्ष को सरकार को घेरने के ढेरों मौके दे दिए हैं ऐसे में पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने भाजपा के 15 साल के कार्यकाल को याद करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ में जिस समय पलायन और भुखमरी की स्थिति थी उस समय भाजपा की सरकार ने गरीबों के लिए काम किया उन्हें 1 रूपए किलो चावल देने की व्यवस्था की।
तत्कालीन मंत्री की झूठी अश्लील सीडी फ़ैलाने के मुद्दे पर डॉ. रमन सिंह द्वारा भूपेश बघेल को जेल में डालने के बयान पर बात करते हुए डॉ. रमन सिंह ने कहा कि भूपेश बघेल ये कह रहे हैं कि डॉ. रमन सिंह ने मुझे जेल में डाल दिया मुझे बदनाम किया जबकि इसकी जाँच केंद्र की एजेंसी CBI द्वारा हुई और केस दिल्ली में चल रहा है और ऐसा घिनौना कार्य करने वाले किसी भी आदमी के साथ ये होगा ही इतना बड़ा अपराध सार्वजनिक रूप से कर के कोई उसे छुपा नहीं सकता।
इसके साथ ही भानुप्रतापपुर से भाजपा प्रत्याशी ब्रह्मानंद नेताम पर लगातार निशाना साधने वाले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि अगर आरोप लगने से ही व्यक्ति अपराधी हो जाता है तब अश्लील सीडी लहरा लहरा कर दिखाने वाले जो बेल पर बाहर घूम रहे हैं ऐसे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को कुर्सी पर बैठे रहने का कोई अधिकार नहीं हैं उन्हें तत्काल इस्तीफा दे देना चाहिए। साथ ही उन्होंने बताया की कांग्रेस सरकार सिर्फ चार सालों में 65 हजार करोड़ का कर्ज लेकर छत्तीसगढ़ को कर्ज तले डूबो दिया है।
इसके साथ हीं उन्होंने युवाओं के बेरोजगारी भत्ते, अपराध, आरक्षण जैसे तमाम मुद्दों पर सरकार को घेरा इसमें भ्रष्टाचार और अवैध वसूली को भी शामिल कर उन्होंने भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार का असली चेहरा जनता के सामने रखा। जनता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ये चुनाव सरकार बदलने के लिए नहीं है हमारे एक प्रत्याशी की जीत से सरकार नहीं बदलेगी लेकिन इस सरकार का घमंड चूर हो जायेगा और जनता का आक्रोश सरकार को दिखेगा।