कांग्रेस के राज में जनता हो रहे प्रताड़ित आत्महत्या करने को मजबूर…

188

रायपुर। प्रदेश भाजपा महामंत्री ओपी चौधरी ने आरंग में एक ढाबा संचालक द्वारा कांग्रेस पार्षद के रिश्तेदार और पुलिस प्रताड़ना से तंग आकर आत्महत्या करने की घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि कांग्रेस के 4 साल में 20 हजार से ज्यादा लोग आत्महत्या कर चुके हैं और अब एक और बेबस व कांग्रेस प्रताड़ित व्यक्ति की आत्महत्या का पाप कांग्रेस सरकार के सिर सर पर चढ़ गया है। अभी कुछ समय पहले ही बिलासपुर में कांग्रेस नेताओं की प्रताड़ना से त्रस्त होकर कांग्रेस के ही एक कार्यकर्ता ने खुदकुशी की थी और सुसाइड नोट में उन कांग्रेस नेताओं के नाम भी लिखे थे। अब आरंग में जिस ढाबा संचालक ने चखना सेंटर चलाने वालों का नाम लिखकर आत्महत्या की है, उसने भी लिखा है कि पार्षद को भाभी बताकर धौंस देने वालों ने उसे पुलिस से भी प्रताड़ित कराया।

प्रदेश भाजपा महामंत्री ओपी चौधरी ने कहा कि कांग्रेस के राज में जनता का यह कैसा उत्पीड़न हो रहा है कि लोग कांग्रेसियों से जान छुड़ाने के लिए जान तक देने मजबूर हैं। कांग्रेस जंगलराज चला रही है। कांग्रेस के लोग मजबूर आम जनता का शिकार कर रहे हैं। यह कैसी सरकार है, जिसने इस तरह की घटनाओं के लिए खुली छूट दे रखी है। कांग्रेस के लोग शराब और उससे जुड़े धंधों में पार्षद से लेकर ऊपर तक के नेताओं की धौंस दिखाकर लोगों को मरने पर मजबूर कर रहे हैं और पुलिस इन अत्याचारियों के इशारे पर निरीह जनता को ही फर्जी मामले लादकर परेशान कर रही है। छत्तीसगढ़ में आम लोग सुरक्षित नहीं हैं। उनसे जीने का हक चल रहा है। चार साल से गुंडाराज कायम है और सरकार आंख पर पट्टी बांधे हुए हैं।