ईडी के छापे पर बीजेपी-कांग्रेस आमने-सामने

230

रायपुर,…. प्रदेश सरकार में उप सचिव सौम्या चौरसिया, कारोबारी सुनील अग्रवाल, लक्ष्मीकांत और सूर्यकांत तिवारी, IAS समीर विश्नोई को ईडी ने पकड़ा है। सौम्या इस वक्त ईडी कस्टडी में हैं। ईडी की कार्रवाई पर कांग्रेस -भाजपा एक बार फिर आमने-सामने हैं। दोनों ही पार्टियों के नेता इस मामले में एक दूसरे को गलत ठहराने पर तुले हैं। प्रदेश में मंत्री टीएस सिंहदेव और पिछली सरकार में मंत्री रहे राजेश मूणत के बयान सामने आए हैं। सिंहदेव ने पूछा है कि ईडी भाजपा के भ्रष्ट लोगों पर कार्रवाई क्यों नहीं करती। दूसरी तरफ मूणत कांग्रेस से पूछ रहे हैं कि भ्रष्ट अफसरों पर कार्रवाई से पेट में क्यों दर्द हो रहा है।प्रदेश में अक्टूबर के महीने से जारी ईडी की कार्रवाई पर पूर्व मंत्री मूणत ने अपने बयान में कहा कि भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारी-व्यापारी पर कार्रवाई हो रही है तो उसके खिलाफ दस्तावेज और सबूत मिले हैं। इस आधार पर कार्रवाई हो रही है तो कांग्रेसियों के पेट में दर्द क्यों हो रहा है। मूणत ने आगे कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ तो पूरा देश खड़ा है। हर कोई चाहता है कि भ्रष्ट लोगों का मामला उजागर हो, उनपर कार्रवाई हो। क्या कांग्रेस का इनसे आपस में कोई रिश्ता है या कांग्रेस की शह पर हुआ भ्रष्टाचार ? ईडी ने जिन्हें पकड़ा वो कोल माइंस वसूली के आरोपी हैं। आरोप लगाने के पहले कांग्रेस पार्टी भ्रष्ट प्रशासनिक तंत्र की जड़ समेट लें नहीं तो और भी बहुत से लोग लाइन में हैं।