किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी ! अब प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के साथ प्रदेश सरकार भी ट्रांसफर करेगी खाते में पैसा…

390

रायपुर: हिंदू धर्म का सबसे बड़ा त्योहार दिवाली अब से कुछ ही दिन में मनाया जाएगा। देशभर में दिवाली के लिए तैयारियां शुरू हो चुकी है। वहीं, दूसरी ओर केंद्र और राज्यों की सरकारें कर्मचारियों को सौगात देने में लगे हुए हैं। वहीं, आज किसानों के लिए बड़ा दिन है। आज किसानों के खाते में पीएम मोदी पीएम सम्मान निधि और छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल राजीव गांधी किसान न्याय योजना का पैसा ट्रांसफर करेंगे.

मिली जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी सोमवार को राजधानी के पूसा स्थित भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान (आईएआरआई) में पीएम किसान सम्मान सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे और इस अवसर पर प्रत्यक्ष लाभ अंतरण के माध्यम से पीएम-किसान योजना के तहत किसानों को 16,000 करोड़ रुपये की राशि की 12वीं किस्त जारी करेंगे। केंद्रीय कृषि मंत्रालय ने शनिवार को एक बयान में यह जानकारी दी। मोदी ने अपनी सरकार की आठवीं वर्षगांठ के अवसर पर मई महीने में हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त के रूप में 21,000 करोड़ रुपये जारी किए थे। मंत्रालय ने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री मोदी 17 अक्टूबर को पीएम किसान सम्मान सम्मेलन 2022 नामक दो दिवसीय कार्यक्रम का उद्घाटन करेंगे और किसानों और कृषि स्टार्टअप, शोधकर्ताओं, नीति निर्माताओं, बैंकर और अन्य हितधारक को संबोधित करेंगे।’’

बयान के मुताबिक, केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने बताया कि यह आयोजन देश भर के 13,500 से अधिक किसानों और 1500 एग्रीस्टार्टअप को एक साथ लाएगा और इस कार्यक्रम में 1 करोड़ से अधिक किसान वर्चुअल रूप से भाग लेंगे। इसमें 700 कृषि विज्ञान केंद्र, 75 आईसीएआर संस्थान, 75 राज्य कृषि विश्वविद्यालय, 600 पीएम किसान केंद्र, 50,000 प्राथमिक कृषि सहकारी समितियां और 2 लाख सामुदायिक सेवा केंद्र (सीएससी) जैसे विभिन्न संस्थान शामिल हैं। तोमर के अलावा केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया, कैलाश चौधरी, शोभा कारंदलजे और भगवंत खुबा के अलावा कई वरिष्ठ अधिकारी इस कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे.

मंत्रालय ने कहा, ‘‘पीएम किसान सम्मान सम्मेलन के पहले दिन प्रधानमंत्री प्रत्यक्ष लाभ अंतरण के माध्यम से कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय की पीएम-किसान नामक महत्वाकांक्षी योजना के तहत किसानों को 16,000 करोड़ रुपये राशि की 12 वीं किस्त जारी करेंगे।’’ मंत्रालय ने कहा कि पीएम-किसान प्रधानमंत्री की निरंतर प्रतिबद्धता का परिणाम है और इसका उद्देश्‍य समावेशी और उत्पादक कृषि क्षेत्र के लिए नीतिगत कार्यों को शुरू करना और सार्वजनिक कार्यक्रमों का कार्यान्‍वयन करना है.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 17 अक्टूबर को अपने निवास कार्यालय में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ सरकार की तीन महत्वाकांक्षी योजनाओं राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत किसानों, गोधन न्याय योजना के अंतर्गत गोबर विक्रेता ग्रामीणों और पशुपालकों तथा राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना के तहत हितग्राहियों के खाते में कुल 1866 करोड़ 39 लाख 32 हजार रुपये का ऑनलाईन अंतरण करेंगे। इससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती मिलेगी और बाजारों की रौनक बढ़ेगी। मुख्यमंत्री इसके साथ ही साथ प्रदेश में नवगठित 10 राजस्व अनुविभागों और 25 तहसीलों का उद्घाटन करेंगे तथा नामांतरण प्रक्रिया के सरलीकरण के लिए नामांतरण पोर्टल के नये वर्जन का शुभारंभ भी करेंगे.

मुख्यमंत्री बघेल ’राजीव गांधी किसान न्याय योजना’ की वर्ष 2021-22 की तीसरी किस्त के रूप में प्रदेश के 23 लाख 99 हजार 615 किसानों को कुल 1745 करोड़ रूपए, ’राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना’ के तहत वित्तीय वर्ष 2022-23 की राशि के रूप में 4 लाख 66 हजार 880 हितग्राहियों को 115 करोड़ 80 लाख 32 हजार रुपये और गोधन न्याय योजना के हितग्राहियों को 5 करोड़ 59 लाख रुपये की राशि का ऑनलाईन भुगतान करेंगे। इस तरह मुख्यमंत्री एक ही दिन में तीनों योजनाओं के हितग्राहियों के खाते में कुल 1866 करोड़ 39 लाख 32 हजार रुपये का ऑनलाईन अंतरण करेंगे