नारायण चंदेल के दुराचारी बेटे के बचाव में पूरी भाजपा-मोहन मरकाम

122

सिटी न्यूज़ रायपुर। रायपुर। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम ने राजीव भवन में पत्रकारों को संबोधित करते हुये कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष अरुण साव बताये आदिवासी बेटी के साथ दुष्कर्म के आरोपी और नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल के बेटे को कहाँ छिपाकर रखे है? भाजपा आखिर बलात्कारियों को कब तक संरक्षण देते रहेगी? पूरा प्रदेश भाजपा के इस बलात्कारी प्रेम को देख रहा है। पुलिस अपराधी को खोजने लगातार दबिश दे रही, नारायण चंदेल खुद भी अज्ञात वास में है। सवाल यह उठता है कि पुत्र मोह में नेता प्रतिपक्ष अपने बेटे को किसी भाजपा शासित राज्य छुपा कर तो नहीं रखे है? कांग्रेस पार्टी मांग करती है कि भाजपा नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल से इस्तीफा ले, वे इस्तीफा नहीं देते है तो उनको बर्खास्त किया जाये तथा उनके बलात्कारी बेटे पलाश चंदेल को सरेंडर करवाये। भाजपा दिल्ली से लेकर छत्तीसगढ़ तक बलात्कारियों और दुराचारियों के समर्थन में खड़ी नजर आ रही है। दिल्ली में देश की नामचीन महिला पहलवान एक दुराचारी के खिलाफ आंदोलनरत है जो भाजपा का सांसद भी है। भाजपा के सांसद कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण सिंह के खिलाफ पांच-छः महिला पहलवानों के साथ यौन शोषण के आरोप लगे है। महिला पहलवान रो-रोकर न्याय की गुहार लगा रही है। कमेटी बनाकर इसमें भी लीपापोती की जा रही। भाजपा आदतन अपराधियों को बचाने वाली संगठन है। भाजपा में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ सिर्फ दिखावटी नारा है, असल में भाजपा बेटी बचाने और महिला सशक्तिकरण के नाम से की पोस्टरबाजी बयानबाजी और राजनीति करती है और जो वास्तविक में बेटियों के साथ खड़े होने की बारी आती है तब भाजपा के नेता अपराधियों के साथ खड़े हुए दिखते हैं।

भाजपा की कार्यकारिणी की बैठक में दुष्कर्म पीड़ित आदिवासी बेटी के साथ ही दुष्कर्म की घटना की निंदा भी नहीं किया गया और ना ही इस दुष्कर्म के लिए जिम्मेदार नारायण चंदेल के बेटे की गिरफ्तारी की मांग की गई और ना ही नारायण चंदेल को नेता प्रतिपक्ष से हटाया गया। इससे समझ में आता है कि भारतीय जनता पार्टी वैचारिक द्ररिद्रता साथ गुजर रही है। अपराधियों के साथ खड़ा होना भारतीय जनता पार्टी का संस्कार है। कठुवा उन्नाव की घटना भी प्रदेश और देश ने देखा है, कैसे भाजपा के नेता अपने बलात्कारी नेता को बचाने के लिए सड़कों पर झंडा लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। भाजपा की गुजरात सरकार ने जेल में बंद सजायाफ्ता 11 बलात्कारियों को रिहा कर दिया और भाजपा से जुड़े नेता उन बलात्कारियों को हार फूल की माला पहना रहे थे, मिठाई खिला रहे थे, जैसे वह जंग जीत कर आए हैं।

मुंगेली में भाजपा के नेता एक घर में घुसकर महिला से छेड़छाड़ करता है, भाजपा आखिर बेटियों के साथ हो रही घटनाओं पर क्यों चुप्पी साध लेती है प्रदेश की जनता जानना चाहती है? डॉ. रमन सिंह मुख्यमंत्री रहते हुए बलात्कार के आरोपी अपने ओएसडी ओपी गुप्ता के खिलाफ 4 साल तक नाबालिक एफआईआर दर्ज होने नहीं दिया था। झारखंड में भाजपा की सरकार के दौरान आदिवासी बेटी के साथ हुई गैंग रेप और पॉक्सो एक्ट के मामले में भाजपा के पूर्व विधायक ब्रह्मानंद को बचाने के लिए पूरी भाजपा लगी हुई थी और भानुप्रतापपुर उपचुनाव के दौरान भी पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह और भाजपा के नेता उस बलात्कारी का जयकारा लगा रहे थे और उसके लिए वोट मांग रहे थे और जब पुलिस गिरफ्तार करने आई तब भाजपा के कार्यकर्ता उस रेप के आरोपी को बचाने के लिए पुलिस के साथ संघर्ष कर रहे थे और अभी भाजपा के नेता अपने नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल के बेटे रेप के आरोपी को बचाने के लिए पूरी ताकत लगा रही है।