CG BOARD EXAM: 10वीं-12वीं पूरक परीक्षा पर बड़ा अपडेट, विद्यार्थियों के पास उत्तीर्ण होने का एक और मौका…

78
Lotus dental clinic Birgaon

रायपुर। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल इस बार पूरक परीक्षा 2023 का आयोजन जुलाई के आखिरी सप्ताह से करने जा रहा है ताकि अगस्त तक परीक्षा हो सके। वहीं अगस्त के आखिरी सप्ताह में परिणाम निकालने की तैयारी है जिससे की सितंबर में 12वीं के छात्रों को कालेज और 10वीं के छात्रों को कक्षा 11वीं की पढ़ाई करने का मौका मिल जाए। पिछले वर्ष यह परीक्षा सितंबर तक चली थी जिससे परिणाम भी देर से आए थे। 10वीं- 12वीं बोर्ड की परीक्षा में जो परीक्षार्थी फेल हुए हैं या उन्हें किसी न किसी विषय में पूरक की पात्रता मिली है। ऐसे परीक्षार्थी को पास होने का एक और मौका मिलने वाला है। माशिमं जुलाई-अगस्त में पूरक व क्रेडिट योजना परीक्षा आयोजित करेगा। इसके लिए जून में निर्देश जारी किए जाएंगे।

अंकों से असंतुष्ट परीक्षार्थी 25 मई तक पुनर्मूल्यांकन-पुनर्गणना के लिए कर सकेंगे आवेदन

10वीं- 12वीं बोर्ड की परीक्षा में जो परीक्षार्थी फेल हुए हैं या उन्हें किसी न किसी विषय में पूरक की पात्रता मिली है। ऐसे परीक्षार्थी को पास होने का एक और मौका मिलने वाला है। माशिमं जुलाई-अगस्त में पूरक व क्रेडिट योजना परीक्षा आयोजित करेगा। इसके लिए जून में निर्देश जारी किए जाएंगे। क्रेडिट योजना के तहत कोई परीक्षार्थी जितने विषयों में पास है उन अंकों की क्रेडिट लेकर वह बाकी विषयों के लिए परीक्षा दे सकेंगे। फेल और पूरक वाले छात्र इन परीक्षाओं में शामिल होकर अपना रिजल्ट सुधार सकेंगे। इसके अलावा ऐसे परीक्षार्थी जो अपने अंकों से संतुष्ट नहीं हैं। वह बोर्ड परीक्षा में पुनर्मूल्यांकन-पुनर्गणना करा सकेंगे। इसके लिए 25 मई तक मौका मिलेगा।

इतनों को मिली पूरक की पात्रता

10वीं की परीक्षा में 17,923 परीक्षार्थियों को पूरक की पात्रता है। कुल 626 परीक्षार्थियों के परिणाम विभिन्न कारणों से राेके गए हैं, जिनमें 16 परीक्षार्थियों के परिणाम नकल प्रकरण के कारण रोके गए हैं और 281 परीक्षार्थी का पात्रता के अभाव में परीक्षा आवेदन निरस्त किए गए हैं। 324 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम जांच की श्रेणी में रोका गया है। इसके अतिरिक्त पांच परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम बाद में घोषित किए जाएंगे।

12वीं में 22751 परीक्षार्थियों को पूरक की पात्रता है। कुल 359 परीक्षार्थियों के परिणाम विभिन्न कारणों से रोके गये, जिसमें 30 परीक्षार्थियों के परिणाम नकल प्रकरण के कारण, 279 परीक्षार्थी पात्रता के अभाव में परीक्षा आवेदन निरस्त किए गए हैं और 43 परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम जांच की श्रेणी में रोका गया है। इसके अतिरिक्त सात परीक्षार्थियों के परीक्षा परिणाम बाद में घोषित किए जाएंगे।