CG में रेप के बाद बच्ची की हत्या का हुआ खुलासा…..

1001

रायपुर. राजधानी के सड्‌डू में आठ साल की मासूम की हत्या के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इस वारदात को नाबालिग ने अंजाम देकर लाश को झाडियों में फेंक दिया था. अपचारी बालक व मृत बालिका एक ही काॅलोनी में रहते थे. संबंध बनाने से मना करने पर अपचारी ने बच्ची के साथ दुष्कर्म कर हत्या की घटना को अंजाम दिया था. अपचारी बालक ने पूछताछ में बताया कि वह अपनी भाभी व चाचा के मोबाइल में पोर्नोग्राफी वीडियो देखा करता था.

घटना के 5 दिन बाद हाउसिंग बोर्ड काॅलोनी स्थित विवेकानंद पार्क के पास झाड़ियों में मृत बालिका का शव मिला था. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए एक विशेष टीम का गठन किया था. टीम गठन के बाद टीम के सदस्यों ने 12 घंटे के भीतर ही अपचारी को गिरफ्तार कर लिया. प्रार्थी ने थाना विधानसभा में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 7 दिसंबर को उसकी 8 वर्षीय नाबालिग पुत्री घर के सामने से बिना बताए कहीं चली गई, जो वापस घर नहीं आई. अज्ञात व्यक्ति द्वारा वैध संरक्षण से बहला फुसलाकर अपहरण करने की आशंका पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध थाना विधानसभा में अपराध दर्ज किया गया था.

नाबालिग के अपहरण की घटना को पुलिस महानिरीक्षक जिला रायपुर अजय यादव एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल ने गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर अपराध अभिषेक माहेश्वरी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण कीर्तन राठौर, नगर पुलिस अधीक्षक विधानसभा उदयन बेहार, उप पुलिस अधीक्षक क्राइम दिनेश सिन्हा, थाना प्रभारी विधानसभा संजीव मिश्रा एवं प्रभारी एंटी क्राइम एंड साइबर यूनिट को अपहृत बालिका की जल्द पतासाजी कर दस्तायाब करने निर्देशित किया था. पुलिस टीम को 13 दिसंबर को विवेकानंद गार्डन के सामने सूनसान स्थान में अपहृत नाबालिग बालिका का शव बोरी एवं कागज के गत्ता से ढका मिला. बालिका का शव खराब हो गया था.