उरला थाना में गिरफ्तारी देने गए हजारों लोगों ने कहा महापौर और जल विभाग के अध्यक्ष पर हो कार्रवाई….

981

बीरगांव….. बीरगांव के बुधवारी बाजार में सब्जी व्यापारियों के द्वारा बुधवारी बाजार में पानी टंकी ना बनाकर उन्हें किसी और जगह बनाने की मांग को लेकर रविवार को व्यापारियों के साथ छत्तीसगढ़ महतारी अधिकार मंच के प्रमुख बेदराम साहू ने महापौर निवास जाकर उनसे मुलाकात कर टंकी निर्माण अन्य जगह स्थापित कर बुधवारी बाजार को व्यापारियों के लिए सुरक्षित करने की मांग की थी, इस पर महापौर के साथ ही जल विभाग कार्य के अध्यक्ष के द्वारा महिला व्यापारियों से गाली गलौज करते हुए महिलाओं से भी दूर व्यवहार किया गया। इसके साथ ही दोनों पदाधिकारियों के द्वारा व्यापारी महिलाओं को बहुत डराया धमकाया गया और उन्हें बुधवारी बाजार से खदेड़ने की भी बात कही गई, इसके खिलाफ व्यापारी महिलाओं और छत्तीसगढ़ महतारी अधिकार मंच के पदाधिकारी के साथ हजारों की संख्या में व्यापारियों और वार्ड वासियों ने थाने में जाकर महापौर के द्वारा लगाए गए आरोप और रिपोर्ट के खिलाफ खुद की गिरफ्तारी की मांग करते हुए महापौर और जल कार्य अध्यक्ष पर कार्यवाही की मांग की साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि जन विरोधी कार्य को विधायक के संरक्षण में अंजाम देने वाले महापौर और जल कार्य विभाग के अध्यक्ष के खिलाफ व्यवसाई महिलाओं पर अब शब्द टिप्पणी करने वाले के ऊपर पुलिस के द्वारा उचित कार्रवाई करने की मांग की गई है। यदि उचित कार्यवाही नहीं हुई तो आने वाले दिनों में घेराव के साथ उग्र आंदोलन किया जाएगा।। उन्होंने यह भी आरोप लगाया जब से बिरगांव में कांग्रेस के महापौर और उनकी सरकार बनी है तब से विधायक के संरक्षण और उनके कहने पर महापौर और उनकी टीम बिरगांव के व्यापारियों और आम जनता के साथ लगातार दुर्व्यवहार कर रहे हैं। अपने घर पर महापौर के द्वारा चर्चा के लिए बुलाने के बाद व्यापारी महिलाओं से दुर्व्यवहार किया गया जिसके लिए उन पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग छत्तीसगढ़ महतारी अधिकार मंच के पदाधिकारी के साथ व्यापारी महिलाओं ने की है।।