Big Breaking : जोगी कांग्रेस के रायपुर जिला अध्यक्ष सहित बीरगांव के सभी पार्षदों ने जोगी पार्टी से दिया इस्तीफा …

1173

सिटी न्यूज रायपुर  :  जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ जोगी में एक बार फिर हाहाकार मच गया है, जोगी पार्टी ने आज अचानक अपने वरिष्ठ नेता और विधायक धर्मजीत सिंह को 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है , तत्संबंध में जोगी कांग्रेस के एक और विधायक प्रमोद शर्मा ने एक बयान में कहा है  कि अमित जोगी ने धर्मजीत को हटाने का फैसला कोर कमेटी में नहीं बल्कि  अकेले बाथरूम में बैठकर लिया है, प्रमोद शर्मा ने कहा कि  मै भी धर्मजीत सिंह के साथ हूं, अमीत जोगी में हिम्मत है तो मुझे भी पार्टी से निकालकर दिखाये .

आज दोपहर में विधायक धर्मजीत सिंह ने दुखीमन से प्रेस कांफ्रेस कर पत्रकारों को बताया कि अमित जोगी ने मेरी पत्नी के साथ फोन पर  दुर्व्यवहार की सीमायें लांघ दी , मेरी नजरों में महिलाओं का सम्मान सर्वप्रथम और सर्वोच्च है , विधायक पद की चिंता मै कभी नहीं करता 1998 से विधायक हूं,  अमीत जोगी की जितनी उम्र नही है उतना मेरा ऱाजनीतिक अनुभव है,  मैने जोगी पार्टी और जोगी परिवार को सदैव अपना समझा लेकिन मेरे साथ उन्होंने जो किया – वह बहुत गलत किया  !!

उपरोक्त घटना से विचलित जोगी कांग्रेस के रायपुर जिला पूर्व शहर अध्यक्ष डा. ओमप्रकाश देवांगन ने बताया कि नवनियुक्त रायपुर जिला शहर अध्यक्ष व पार्षद श्री बेदराम साहू, बीरगांव नगर निगम के नवनिर्वाचित पार्षद श्री एवज देवांगन,  पार्षद श्रीमती डिगेश्वरी देवांगन , पार्षद श्री अश्वनी चांद्रे,  बीरगांव ब्लाक अध्यक्ष श्री डोमेश देवांगन,  पूर्व नेता प्रतिपक्ष श्री भीखम देवांगन,  वरिष्ठ नेता नन्हू दीवान, बल्लू बंजारे, सोमती धृतलहरे, डा.  ज्वाला प्रसाद धृतलहरे,  डा.  जांगडे,  यस पाटिल,  जोहन चतुर्वेदी,, चतुर्भुज पवार,  नथेला ध्रुव,  महेन्द्र पांडेय,  श्रीकांत तिवारी,  ओमप्रकाश साहू,  राजकुमार साहू,  वासू मानिकपुरी,  भागवत साहू,  ध्रुव राजपुत  भुपेन्द्र साहू, दुर्गेश साहू, रजत साहू, बीरेन्द्र सेन,  उमेश धीवर, दिलीप निर्मलकर,   रमेश नाग, श्रीमती निशा सिंह,  बीरगांव ब्लाक महिला अध्यक्ष श्रीमती कांति वर्मा सहित सभी पार्षद प्रत्यासियों ने भी सामूहिक इस्तीफा दे दिया है, धरमजीत सिंह जी के अचानक निष्कासन के कारण अल्पसमय में केवल कुछ प्रमुखजनों के साथ बैठकर निर्णय लिया गया. लेकिन सोशल मीडिया के माध्यम से जैसे जैसे बाकी सदस्यों को जानकारी मिल रही है फोन करके सभी मित्रगण भी इस्तीफा दे रहे हैं  !! 

इस्तीफा देने का प्रमुख कारण बताते हुवे डा. ओमप्रकाश देवांगन ने कहा कि जोगी कांग्रेस के सबसे लोकप्रिय और वरिष्ठ नेता धर्मजीत सिंह, जो कि स्व. अजीत जोगी जी के सबसे करीबी और विश्वासपात्र सच्चे मित्र थे, जिन्होने अजीत जोगी जी के साथ और अजीत जोगी जी के बाद भी जोगी कांग्रेस को मजबूत करने में सबसे अहम योगदान दिया, अजीत जोगी जी की तबीयत खराब थी तो धर्मजीत जी एकमात्र एैसे नेता थे जो पल पल उनके साथ रहे .

श्री अजीत जोगी जी के निधन के बाद कईयों ने पार्टी छोड़ दिया मगर धर्मजीत जी ने अभी तक  जोगी पार्टी और जोगी परिवार दोनों को संभाला,  संबल दिया,  एैसे जिम्मेदार वरिष्ठ नेता को उस पर पिछड़ा वर्ग,  जनजाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों का उपेक्षा करने का आरोप लगाकर  निष्कासित किये जाने से हमारा मन बहुत दुखी हुवा है  , और सर्वसम्मति से इस्तीफा देने का प्रस्ताव पारित किया गया  !!