अग्रसेन महाविद्यालय की एन.एस.एस. इकाई ने तेंदुआ गाँव मे लगाया शिविर

104

सिटी न्यूज़ ररायपुर. अग्रसेन महाविद्यालय के अंतर्गत स्थापित राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस) इकाई द्वारा धरसीवा विकासखंड के तेंदुआ गाँव में सात दिवसीय शिविर का आयोजन किया गया है. विगत 21 जनवरी से आगामी 27 जनवरी तक आयोजित इस शिविर में ग्रामीणों की जागरूकता के लिए विभिन्न कार्यक्रम किये जा रहे हैं.  इस बार के शिविर का थीम “स्वस्थ युवा, ग्रामीण विकास” रखा गया है- इसलिए सभी कार्यक्रम इसी विषय के अनुरूप आयोजित किये जा रहे हैं.   

शिविर की प्रभारी तथा महाविद्यालय में एनएसएस की संयोजक प्रो. दीपिका अवधिया ने बताया कि पहले दिन उद्घाटन समारोह में तेंदुआ के सरपंच छगनूराम साहू, साहू समाज के क्षेत्रीय अध्यक्ष चूड़ामणि साहू विशेष रूप से उपस्थित रहे. इस अवसर पर अपने संबोधन में महाविद्यालय के डायरेक्टर डॉ वी.के. अग्रवाल एवं प्राचार्य डॉ युलेंद्र कुमार राजपूत विशेष रूप से उपस्थित रहे. उद्घाटन समारोह में सरपंच  छगनूराम साहू ने कहा कि गाँव में इस प्रकार के शिविर लगने से युवाओं में एक अलग तरह का उत्साह देखने को मिलता है. डायरेक्टर डॉ वी.के. अग्रवाल ने कहा कि युवाओं में असीम ऊर्जा होती है, उसका सदुपयोग करने के लिए ही ऐसे शिविर आयोजित किये जाते हैं. प्राचार्य डॉ युलेंद्र कुमार राजपूत ने कहा कि तेंदुआ गांव में शिविर आयोजित होने से स्थानीय युवाओं में एक नई उर्जा का संचार होगा और वे भी कुछ विशेष कार्य करने के लिए प्रेरित होंगे. एडमिनिस्ट्रेटर प्रो. अमित अग्रवाल ने शिविर को सफल  बताते हुए इसके सभी प्रतिभागियों को शुभकामनाएँ दी.    

शिविर के पहले दिन एन.एस.एस. के स्वयंसेवकों ने शिविर परिसर और आसपास के क्षेत्र की साफ़-सफाई की.  दूसरे दिन सुबह स्वयंसेवकों ने गाँव में प्रभात फेरी निकली और बौद्धिक परिचर्चा का आयोजन किया. इसके पश्चात स्वयंसेवकों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किये. इसमें ग्रामीणों ने भी पूरे उत्साह के साथ हिस्सा लिया. शिविर के तीसरे दिन गाँव के बाजार, तालाब और स्वास्थ्य केंद्र सहित सार्वजानिक स्थानों पर साफ-सफाई की गई. इसके बाद बौद्धिक चर्चा में रोजगार मार्गदर्शन और जीवन में प्रेरणा के महत्व पर आमंत्रित वक्ता जेसीआई संस्कार चैप्टर के अंकित चौधरी ने स्वयंसेवकों और गाँववासियों को उपयोगी जानकारी दी. इस कार्यक्रम में ग्रामीणों की सक्रिय भागीदारी रही. शिविर की प्रभारी प्रो. दीपिका अवधिया ने बताया कि इस आयोजन के शेष चार दिनों में विभिन्न प्रकार के जागरूकता कार्यक्रम  आयोजित किये जायेंगे.