छत्तीसगढ़ में घर से कुछ ही दूरी पर 15 साल की बच्ची का मिला कंकाल, गुस्साए लोग सड़क पर जाम लगाकर हत्यारे को सरेआम फांसी देने की मांग करी…

599

जांजगीर चांपा. नगर पंचायत खरौद में गुरुवार को तालाब किनारे झाड़ियों में एक 15 साल की बच्ची का कंकाल मिला। यह कंकाल बच्ची के घर से महज 200 मीटर की दूरी पर था। इस बात की जानकारी होने पर गुस्साए ग्रामीणों ने सड़क जाम कर दिया और हत्यारे को सरेआम फांसी देने की मांग करने लगे। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को शांत कराया। मामला शिवरीनारायण थाना क्षेत्र का है।

कंकाल पर मिले कपड़ों से हुई मृतका की पहचान
जानकारी के अनुसार खरौद नगर में तालाब के किनारे झाड़ियों में एक नर कंकाल देखकर राहगीरों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने नर कंकाल को अपने कब्जे में ले लिया और उन लोगों के परिजनों को सूचना दी जिनके गुमशुदगी के मामले इलाके में दर्ज हैं। सूचना मिलते ही तिवारी पारा निवासी मान सिंह सारथी और उनके परिजन भी पहुंच गए। उन्होंने कंकाल पर मिले कपड़ों से कंकाल की पहचान अपनी 15 वर्षीय बेटी बेबी सारथी के रूप में की।

16 दिनों से थी लापता
बेबी सारथी 29 जून की शाम चार बजे राशन लाने घर से निकली थी और फिर लौटी नहीं। लड़की के परिजनों ने आस-पड़ोस और रिश्तेदारों समेत सभी संभावित जगहों पर तलाशी ली, लेकिन बच्ची का कुछ पता नहीं चला। इसके बाद उन्होंने शिवरीनारायण में नाबालिग किशोरी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई।

हत्यारे को सरेआम फांसी देने की मांग
बच्ची का कंकाल मिलने के बाद परिजन समेत स्थानीय लोगों ने आक्रोशित होकर शिवरीनारायण-सेमरा मार्ग जाम कर दिया। विरोध प्रदर्शन करीब 2 घंटे तक चला। इस दौरान लोगों ने हत्यारे को सरेआम फांसी देने की मांग भी की। मौके पर पुलिस टीम पहुंची और जल्द कार्रवाई का आश्वासन देते हुए मामले को शांत कराया।

डीएनए टेस्ट होना बाकी
थाना प्रभारी एसडीओपी खलखो और शिवरीनारायण थाना प्रभारी रवींद्र ने बताया कि कातिल कौन है या हत्या के पीछे का कारण क्या है यह अभी स्पष्ट नहीं है। फिलहाल कंकाल को पोस्टमार्टम के लिए स्थानीय अस्पताल भेज दिया गया है। उसके बाद कंकाल को सिम्स मेडिकल कॉलेज ले जाया जाएगा जहां उसका मेडिकल लेजर और डीएनए टेस्ट होगा। बिलासपुर से एफएसएल की टीम बुलाई गई है। जल्द ही दोषियों का पता लगाकर उचित कार्रवाई की जाएगी।

girl.jpg