रायपुर नगर निगम अब पानी बेचने की तैयारी में: STP के जरिए उद्योगों को साफ पानी बेचने का शुरू होगा प्रोजेक्ट; शहर में हरियाली बढ़ाने पर होगा काम…

288

रायपुर नगर निगम अब औद्योगिक घरानों को पानी बेचने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए प्रोजेक्ट तैयार किया जाएगा। दैनिक भास्कर को शहर के महापौर एजाज ढेबर ने बताया कि पानी बेचने के प्लान पर हम काम कर रहे हैं। हाल ही में शहर में हुए महापौर परिषद के राष्ट्रीय सम्मेलन में ये आइडिया गुजरात के मेयर के साथ एजाज ढेबर ने डिस्कस किया है। गुजरात में ही इस तरह से काम हो रहे हैं।

एजाज ढेबर ने कहा कि हम अब वॉटर सरप्लस सिटी बनाने की दिशा में कार्य करेंगे। हमने रायपुर में STP (सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट) बना लिए हैं। नालों का पानी साफ किया जा रहा है। ये पानी अब हम उद्योगों को बेचेंगे। इस परियोजना पर जल्द ही रायपुर में काम शुरू होगा। प्लांट से रिफाइन पानी को बिजली, स्टील, आयरन जैसे प्रदेश के उद्योगों को बेचा जाएगा। महापौर ने बताया कि परिषद का राष्ट्रीय सम्मेलन रायपुर में होने की वजह से कई तरह के आइडिएशन पर चर्चा हुई है।

इन प्लांट से बेचा जाएगा पानी
जून के महीने में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने खारुन नदी को संजीवनी देने के लिए 156 करोड़ रुपये खर्च कर बनाई गई सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) को शुरू किया था। ये एसटीपी 12 नालों के गंदे पानी को साफ करने का काम कर रहा है। इससे भनपुरी, जोरा और बोरियाखुर्द की पानी टंकियों से 2 लाख की आबादी को शुद्ध पानी मिल रहा है।

14 अगस्त को मुख्यमंत्री ने 3.75 करोड़ रूपए की लागत से तैयार एक और एसटीपी के प्रोजेक्ट काे शुरू किया है। ये 2000 घरों के अपशिष्ट जल को साफ करेगा। नरैया तालाब में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के निर्माण के लिए भूमि पूजन हो चुका है। इस प्रोजेक्ट को 31 जुलाई 2023 तक पूर्ण कर लिया जाएगा।

मनेगा रायपुर का जन्मदिन
नगर निगम रायपुर की तरफ से शहर के जन्म दिन मनाने का कार्यक्रम भी आयोजित किया जा सकता है। मेयर कॉन्फ्रेंस में इसे लेकर कार्यक्रम तय किए गए हैं। जैसे प्रदेश में राज्योत्सव मनाया जाता है। इसी तरह शहर के ऐतिहासिक और सामाजिक महत्व को देखकर शहर का जन्मदिन मनाने की योजना है। इसमें शहर को विकास कार्यों की सौगात मिलेगी, इसकी सफाई और सुंदरता को बढ़ाने के काम होंगे

रायपुर नगर निगम आने वाले दिनों में शहर की हरियाली बढ़ाने पर भी काम करेगा। महापौर एजाज ढेबर ने बताया कि मेयर कॉन्फ्रेंस में तय आइडिया को रायपुर शहर में लागू किया जाएगा। पूरे देश के महापौरों ने हर शहर को हरियाली से सजाने का संकल्प लिया है। रायपुर शहर के भीतर हर मुमकिन कोशिश होगी कि सड़कें, गालियां और मोहल्ले हरे-भरे हों। बड़ी तादाद में ट्री गार्ड के साथ पेड़-पौधे नगर निगम लगवाएगा। शहर के लिए अच्छे काम करने वालों को श्री की उपाधि देकर सम्मानित किया जाएगा।

अफसरों की टीम लगी काम पर
छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर को विकसित करने का अब नया प्लान तैयार हो रहा है। इसमें नगर निगम अपनी आय बढ़ाने के जरियों पर सोच रहा है ताकि जनता के विकास में लगने वाले पैसों की कमी न हो। वर्तमान में बहुत से मामलों में निगम राज्य सरकार पर निर्भर करता है। योजनाएं तो कईं हैं मगर फंड की कमी विकास में रोड़ा बन जाती है। इसी मुश्किल को हल करने का एक नए आइडिया पर अफसर काम कर रहे हैं।