बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद का रायपुर के लिए VIDEO मैसेज: बोले-साइबर क्राइम पर अवेयरनेस जरूरी, सुनो रायपुर अभियान को सराहा

568

 

रायपुर के लोगों के लिए एक वीडियो मैसेज बॉलीवुड से आया है। एक्टर सोनू सूद ने लोगों से साइबर अपराधों से बचकर रहने की अपील की है। सूद ने वीडियो मैसेज में कहा- साइबर अपराध की घटनाएं बढ़ रही हैं। इसमें मासूम लोगों को ठगा जाता है । रायपुर पुलिस की अवेयरनेस के लिए सुनो रायपुर की मुहिम कमाल की है। आम लोग भी दूसरे लोगों को जागरूक करें। जितने भी लोग इस तरह के मामलों के शिकार हुए हैं वो दूसरों को जानकारी दें, इसके बारे में जरूर बताएं। इसी तरह कमाल का काम करते रहिए जय हिंद..।

रायपुर की पुलिस साइबर क्राइम पर अंकुश लगाने आम लोगों को जागरूक करने का अभियान चला रही है। 15 अगस्त को इसकी शुरूआत की गई है। “सुनो रायपुर”अभियान के तहत चार दिन में एक लाख से ज्यादा लोगों तक पुलिस सीधे तौर पर पहुंची है। शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में साइबर सेल की टीम लोगों के बीच जाकर इन अपराधों के पैटर्न के बारे में बता रहे हैं।

ऐसे बचें डिजिटल फ्रॉड से

  • अनजान व्यक्ति आपको कॉल मैसेज कर लुभावना ऑफर देता है, किसी सर्विस के ब्लॉक होने का भय दिखाता है, ऑनलाइन खरीदारी या व्यक्तिगत जानकारी देकर आप को विश्वास में लेता है और इस तरीके से लोग ठगी का शिकार हो जाते हैं।
  • किसी भी सूरत में अनजान कॉलर से अपने फोन पर बैंक से जुड़ी निजी जानकारी आधार का नंबर या पैन कार्ड की जानकारी, एटीएम का ओटीपी कतई साझा ना करें।
  • बीमा, फाइनेंस, किश्त, लोन, केवाईसी अपडेट, सिम ब्लॉक होना, लॉटरी लगी है, कौन बनेगा करोड़पति, लकी ड्रॉ जैसे फोन कॉल या मैसेज के झांसे में बिल्कुल ना आए
  • लोन ऐप के झांसे में भी ना आए क्योंकि ऐसे में जानकारी हासिल हो जाने के बाद ऐप के संचालक लोगों को ब्लैकमेल करते पाए गए हैं।
  • अनजान व्यक्ति के कहने पर किसी भी एप्लिकेशन जैसे क्विक सपोर्ट, एनी डेस्क टीम व्यूवर को इन्स्टॉल ना करें। इससे फोन या कंप्यूटर हैक हो सकता है।
  • अनजान नंबर से आए लिंक को कभी क्लिक ना करें, रजिस्ट्रेशन अथवा अकाउंट टेस्ट करने के नाम से 10 रुपए की राशि ट्रांसफर कर दीजिए इस तरह की बातें ठग करते हैं।
  • अनजान नंबर की वीडियो कॉल ना उठाएं, फोन उठाते ही आप ब्लैकमेलिंग के शिकार हो सकते हैं। सोशल मीडिया पर अनजान लोगों से दोस्ती करने से बचें।
  • OLX जैसी वेबसाइट पर आर्मी मैन, सीआरपीएफ, बीएसएफ फोर्स से जुड़ा हुआ व्यक्ति बताकर लोग सामान बेचने की बात कहकर ठगी करते हैं।
  • QR कोड स्कैन भेजकर रुपए देने की बात कही जाती है, जबकि इससे पेमेंट आपके खाते से कटकर कोड वाले खाते में चली जाएगी।
  • गूगल पर कस्टमर केयर पर नंबर सर्च करते वक्त सावधानी बरतें, कस्टमर केयर नंबर के लिए हमेशा संबंधित कंपनी की वेबसाइट पर ही जाएं। +92, 440-846922-920 या 940 जैसे नंबर से कॉल आने पर रिसीव न करें ये ठग गैंग के नंबर्स हैं।

ठगी का शिकार होने पर क्या करें
अगर आपको लगे कि आपके साथ कोई डिजिटल फ्रॉड हुआ है तो इसकी फौरन शिकायत करें। साइबर अपराध या ठगी के शिकार होने की स्थिति में टोल फ्री नंबर 1930 पर कॉल करें cybercrime.gov.in पर शिकायत करें या रायपुर पुलिस की साइबर सेल को 0771 4247109 जानकारी दी जा सकती है।