24 अगस्त को रायपुर की 7 सड़कें होंगी बंद: BJP के प्रदर्शन के चलते 2000 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की ड्यूटी; वॉटर कैनन, आंसू गैस का इंतजाम…

1326

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में 24 अगस्त को भाजपा के विरोध प्रदर्शन के चलते सियासी बवाल हो सकता है। एक ओर जहां BJP तमाम मांगों को लेकर CM आवास घेरने की तैयारी में है, वहीं जिला प्रशासन भी सख्त रुख अपनाए हुआ है। ऐसे में हंगामे के चलते आम लोगों को परेशानी हो सकती है। कई सड़कों पर जाम लगने के आसार हैं। वहीं प्रशासन ने कई सड़कों को बंद करने के निर्देश जारी कर दिए हैं।

रायपुर की ट्रैफिक पुलिस ने लोगों के लिए एक अलर्ट जारी किया है। इनमें भारतीय जनता पार्टी के धरना प्रदर्शन और रैली को ध्यान में रखते हुए कुछ सड़कों पर एंट्री बैन कर दी गई है। कुछ सड़कों को डायवर्ट रूट के तौर पर इस्तेमाल किया जाएगा।

निगम मुख्यालय के पास भाजपा नेता प्रदर्शन करने जमा होंगे।

निगम मुख्यालय के पास भाजपा नेता प्रदर्शन करने जमा होंगे।

यह सड़कें रहेंगी बंद

  • कोतवाली चौक से फायर ब्रिगेड चौक
  • शास्त्री चौक से बंजारी चौक फायर ब्रिगेड चौक महिला थाना चौक
  • महिला थाना चौक से ओसीएम चौक काली माई चौक कबीर चौक
  • शास्त्री चौक से खजाना चौक
  • आनंद नगर चौक से एसआरपी चौक
  • केनाल रोड पंचशील चौक से छत्तीसगढ़ क्लब चौक
  • पीडब्ल्यूडी चौक से सर्किट हाउस इनकम टैक्स कॉलोनी टर्निंग तक

पुलिस ने रूट डायवर्ट किया है।

पुलिस ने रूट डायवर्ट किया है।

इस रूट का करें इस्तेमाल

  • शास्त्री चौक से खजाना चौक कलेक्ट्रेट परिसर जाने वाले वाहन चालक शास्त्री चौक से मरही माता चौक खालसा स्कूल, ऑक्सीजन रोड होकर जाएं ।
  • इसी प्रकार शास्त्री चौक से एस आर पी चौक तेलीबांधा जाने के लिए मरही माता चौक से खालसा स्कूल केनाल चौक होकर भारत माता चौक से SRP चौक एवम तेलीबांधा चौक की और आवागमन कर सकते हैं
  • कालीबाड़ी से शास्त्री चौक रेलवे स्टेशन जाने वाले वाहन चालक केनाल लिंकिंग रोड का उपयोग करें
  • सर्किट हाउस एवं कंट्रोल रूम जाने वाले वाहन चालक कटोरा तालाब चौक से पीडब्ल्यूडी चौक कालीमाई तिराहा, एलआईसी टर्निंग से कंट्रोल रूम सर्किट हाउस तकञ

राज्य से आ रही है पुलिस फोर्स।

राज्य से आ रही है पुलिस फोर्स।

पूरे प्रदेश से बुलाई गई फोर्स
भारतीय जनता पार्टी के हंगामेदार विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर पुलिस प्रशासन ने कमर कस ली है। 40 से अधिक एडिशनल एसपी और डीएसपी रैंक के अधिकारी महासमुंद, राजनांदगांव, दुर्ग, बलौदा बाजार, कवर्धा और जांजगीर जैसे जिलों से पहुंच रहे हैं। प्रदेश के बड़े जिलों से 50 से ज्यादा इंस्पेक्टर बुलाए गए हैं । एक दर्जन महिला इंस्पेक्टर की ड्यूटी लगाई गई है। इसके अलावा 800 से ज्यादा महिला और पुलिस सिपाहियों का बल भाजपाइयों पर काबू पाने के लिए बुलाया गया है। खबर यह भी है कि फोर्स के पास भीड़ या हुड़दंगियों को काबू करने के लिए आंसू गैस के गोले, वाटर कैनन, लाठियां स्टोन प्रूफ बॉडिसूट होगा। किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए पुलिस खुद को पूरी तरह से मुस्तैद बता रही है।

हंगामेदार होगा विरोध प्रदर्शन।

हंगामेदार होगा विरोध प्रदर्शन।

एक लाख भाजपाई पहुंचेंगे
भारतीय जनता पार्टी बेरोजगारी, बढ़ते अपराध, नशाखोरी जैसे मामलों को लेकर रायपुर में विरोध प्रदर्शन कर रही है। भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या भी इस विरोध प्रदर्शन में शामिल होंगे। आयोजन को लेकर पूर्व मंत्री और विधायक बृजमोहन अग्रवाल ने दावा किया है कि प्रदेश भर से 1 लाख भाजपा कार्यकर्ता इसमें शामिल होंगे और मुख्यमंत्री निवास का घेराव किया जाएगा।

पार्टी सूत्रों की मानें तो पिछले 1 महीने से भारतीय जनता पार्टी इस कार्यक्रम के आयोजन की तैयारी में लगी हुई है। प्रदेश के हर जिले में लगातार बड़े नेता बैठक कर रहे हैं , युवा मोर्चा की टीम को जिम्मेदारी सौंपी गई है कि इस कार्यक्रम को सफल बनाएं। भाजपा इस पूरे अभियान को अपने मिशन 2023 में एक बड़े सियासी कम बैक की तरह देख रही है। विरोध प्रदर्शन के बाद प्रदेश में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का दौरा भी संभावित है । इस वजह से भाजपा के हर नेता के लिए इस विरोध प्रदर्शन में परफॉर्मेंस बड़ा मैटर है।

कलेक्टर ने दिए हैं कार्रवाई के निर्देश
तीन-चार दिन पहले जिला पुलिस के तमाम अफसरों के साथ कलेक्टर ने बैठक की है। साफ तौर पर कहा गया है कि किसी भी तरह के धरना प्रदर्शन जुलूस रैली के दौरान अगर नियमों का उल्लंघन किया जाता है या धरना प्रदर्शन की शर्तों में अचानक कोई बदलाव किया जाता है तो आयोजक संस्था या लोगों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी । इस वजह से भाजपा का यह विरोध प्रदर्शन सियासी दल बनाम जिला प्रशासन बन चुका है।