खाते में गलती से आये 11677 करोड़ ; शेयर बाजार में लगा दिए 2 करोड़ ; 30 मिनट में 5.64 लाख का मुनाफा ; जानिए क्या है री कहानी

781

गुजरात के अहमदाबाद में बैंक की गड़बड़ी की वजह से रमेशभाई सागर नामक शख्स के खाते में 11,677 करोड़ रुपए जमा हो गए। रमेशभाई सागर अहमदाबाद में एम्ब्रॉयडरी के व्यापारी हैं। वो 5 साल से शेयर बाजार में भी ट्रेडिंग कर रहे हैं। इस रकम में से दो करोड़ रुपए उन्होंने शेयर बाजार में लगाए और करीब आधे घंटे में पांच लाख रुपए कमा लिए। भास्कर से बातचीत में रमेशभाई सागर ने कहा- मैं तुरंत फैसला लेता हूं, इसलिए लाभ कमाया।

मैंने बैलेंस चेक किया तो मेरी आंखें चौड़ी हो गईं

जिंदगी बदलने वाले पलों को याद करते हुए रमेशभाई सागर कहते हैं- 26 जुलाई को रोज की तरह सुबह 9.30 बजे ट्रेडिंग करने के लिए बैठा था। 2-3 ट्रेड किए, लेकिन उस दिन बाजार में ज्यादा चहल-पहल नहीं थी। फिर 11.30 बजे तक इंतजार किया। अचानक जब मैंने बैलेंस चेक किया तो मेरी आंखें चौड़ी हो गईं। मेरे खाते में 11,677 करोड़ रुपए आए।

महंत नरेंद्र गिरि के कमरे से मिला 3 करोड़ नगद; 50 KG सोना भी मिला, इसी कमरे में मिला था शव

पैसा निवेश कर फायदा कमाया

जब मेरे खाते में इतनी बड़ी राशि जमा हो गई, तो अचानक मुझे लगा कि पैसा थोड़े समय के लिए ही आया है, बैंक को रुपए वापस देने ही पड़ेंगे, तो मैंने सोचा कि इसे आधे घंटे के लिए निवेश करूं और जो भी लाभ मिले उसे बुक करूं और जो रुपए गलती से आए हैं उसे बैंक वापस ले ले। मैं रोजाना ट्रेडिंग करता हूं, लेकिन अधिकतम 25 हजार रुपए का करता था, लेकिन अब मेरे खाते में 11,677 करोड़ रुपए आए।

शेयर बाजार में लगाए 2 करोड़ रुपए

रमेशभाई ने बताया- मैंने खाते में जमा हुए पैसे में से लगभग 2 करोड़ रुपए बैंक निफ्टी कॉल-पुट में कारोबार किया। उस समय रुपए शेयर बाजार में निवेश करते समय मैंने एक बार नुकसान के बारे में सोचा था, लेकिन मुझे शेयर बाजार का ज्ञान था, इसलिए मुझे ज्यादा डर नहीं लगा।

मैं तुरंत निर्णय ले लेता हूं

रुपए देखकर खुशी का ठिकाना नहीं रहा। मैंने इसके बारे में नहीं सोचा और मुझे अचानक से 5 लाख रुपए का मुनाफा हुआ, तो मुझे अच्छा लगा। यह घटना अब बहुत सार्वजनिक हो गई है। आसपास के लोगों और परिवार ने भी कहा कि बैलेंस आया और निवेश किया। इतना दिमाग चलाया यह बहुत अच्छी बात है। अपनी निर्णय शक्ति के बारे में उनका कहना है कि xyz जो कुछ भी हुआ, मैं तुरंत निर्णय ले लेता हूं।

दो दुधमुंहे बच्चों को लेकर देर रात कुएं में कूद गई मां, सुबह निकाले गए तीनों शव

आपने शेयर बाजार में कैसे कारोबार करना शुरू किया?

मेरा एक दोस्त था। वह शेयर बाजार का कारोबार करता था। उसने मुझसे कहा कि शेयर बाजार में थोड़ा निवेश करना अच्छा रहेगा। तब से 4-5 साल से मैं शेयर बाजार में भी कुछ कारोबार करता हूं। दोस्त को पता चला या नहीं, इस बारे में रमेशभाई का कहना है कि वह इस समय शहर से बाहर हैं और संपर्क में नहीं हैं।

दोस्तों को पता चला तो उन्होंने पार्टी मांगी

जब आसपास के दोस्तों को पता चला तो उन सभी से एक पार्टी देने के लिए कई फोन आए कि ‘भाई, पार्टी चाहिए।’ मैंने कहा, ‘एक बार पैसे वापस आने दो।’ दोस्तों के पार्टी के लिए करीब 500 कॉल आए। अगर आप हर एक के लिए पार्टी करते हैं, तो आधा रुपया पार्टी में ही इस्तेमाल हो जाएगा, तो मैंने सोचा कि एक बड़ी पार्टी करते हैं।

अन्य व्यक्ति के पास भी इतनी राशि जमा हुई थी, लेकिन उन्होंने नहीं उठाया मौके का फायदा

रमेशभाई ने कहा कि उस दिन मेरी तरह बिहार में भी एक व्यक्ति के खाते में पैसा जमा हुआ था। वहां भी उतनी ही रकम का ट्रांसफर किया गया था, लेकिन उसने निवेश नहीं किया। उसने केवल यह देखा कि बैलेंस आ गया है। रमेशभाई ने कहा कि मौका मिले तो चौका लगा देना चाहिए।

पोरबंदर में खेती में काम किया, अहमदाबाद में नौकरी की

मैं सिर्फ सातवीं तक पढ़ा हूं और मैंने अपनी पढ़ाई पोरबंदर में की है। फिर 3-4 साल खेती में काम किया। फिर लगभग 16 वर्ष की उम्र में अहमदाबाद आ गया। यहां आकर एम्ब्रॉयडरी का काम करने लगा। 4-5 साल की नौकरी करने के बाद 2008 में अपना काम शुरू कर दिया।